नई दिल्ली: दिल्ली सरकार ने रविवार को एनआईए के अधिकारी तंजील अहमद के परिजन को एक करोड़ रुपये की क्षतिपूर्ति राशि देने का ऐलान किया। राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) के अधिकारी तंजील अहमद की मोटरसाइकिल सवार अज्ञात हमलावरों ने उस समय गोली मारकर हत्या कर दी, जब वह अपनी पत्नी फरजाना के साथ उत्तर प्रदेश के बिजनौर शहर से एक शादी समारोह में शामिल होने के बाद लौट रहे थे।

और पढ़े -   जंतर-मंतर पर दलितों का प्रदर्शन, देशव्यापी स्तर पर अब दलित करेंगे हिन्दू धर्म का त्याग

NIA अधिकारी तंजील अहमद के परिजनों को 1 करोड़ रुपये देगी दिल्ली सरकारदिल्ली सरकार के एक अधिकारी ने बताया, ‘दिल्ली सरकार एनआईए अधिकारी मोहम्मद तंजील अहमद के परिजनों को अपनी नीति के तहत एक करोड़ रुपये की क्षतिपूर्ति राशि देगी।’ अधिकारी दिल्ली में रहते थे, इसलिए दिल्ली सरकार उनके परिजन को क्षतिपूर्ति राशि देगी।

इस बीच दिल्ली पुलिस के विशेष प्रकोष्ठ का एक दल अधिकारी की हत्या के घंटों बाद रविवार को बिजनौर भेजा गया। दल में तीन अधिकारी हैं। एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने यह जानकारी देते हुए बताया कि यह दल स्थिति का जायजा लेने के लिए सुबह भेजा गया।

और पढ़े -   अल्पसंख्यको के लिए खुलेंगे 100 नवोदय जैसे स्कूल और 5 उत्कृष्ठ शैक्षणिक संस्थान

सूत्रों ने बताया कि दिल्ली पुलिस का विशेष प्रकोष्ठ जांच से संबद्ध नहीं है और दौरा अनौपचारिक है। पुलिस के अनुसार, यह एक सुनियोजित हमला था और हत्यारों ने कार से लौट रहे 45 वर्षीय मोहम्मद तंजील अहमद को 24 और उनकी पत्नी फरजाना को चार गोलियां मारीं। उनकी 14 वर्षीय बेटी और 12 वर्षीय बेटा गाड़ी की पिछली सीट पर बैठे थे और दोनों बच गए। यह घटना शनिवार देर रात 12.45 मिनट पर हुई।

और पढ़े -   आतंक के फर्जी मुकदमों में 16 साल जेल में बर्बाद, अदालत ने दिया योगी सरकार को मुआवजा देने का आदेश

एनआईए के आईजी संजीव कुमार ने बाद में बताया कि फरजाना की हालत खतरे से बाहर है।


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE