डीडीसीए ने आखिरकार अपने कहे के मुताबिक दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और वित्त मंत्री अरुण जेटली को कटघरे में खड़े करने वाले कीर्ति आजाद के खिलाफ दिल्ली की एक अदालत में ढाई करोड़ रुपये की राशि का मानहानि का दावा शुक्रवार को ठोक दिया।

छवि धूमिल करने के लिए मानहानि का दावा

डीडीसीए के ट्रेजरॉर रविंदर मनचंदा की ओर से दाखिल की गई याचिका में केजरीवाल और कीर्ति आजाद को दिल्ली क्रिकेट एसोसिएशन पर चयन के लिए सेक्सुअल सेवर के लगाए गए आरोपों पर छवि धूमिल करने के लिए मानहानि का दावा ठोका गया है। रविंदर मनचंदा ने ‘अमर उजाला’ से खुलासा किया कि उनकी ओर से शुक्रवार को यह मामला दाखिल किया गया है। मनचंदा का कहना है कि इस मामले में केजरीवाल और कीर्ति आजाद को सोमवार को नोटिस भेज दिया जाएगा।

उन्होंने यह भी कहा कि वह इस वक्त मुंबई में हैं और शनिवार को इस पूरे मामले का ब्यौरा पेश करेंगे। यह मामला डीडीसीए ने संग्राम पटनायक की अगुआई में तीन वकीलों के पैनल की ओर से दाखिल किया है। जिसमें केजरीवाल और कीर्ति आजाद की ओर से चयन के लिए सेक्सुअल सेवर के लगाए गए आरोपों के जरिये डीडीसीए की छवि धूमिल करने की दलील दी गई है।

उल्लेखनीय है कि केजरीवाल ने डीडीसीए पर चयन के लिए एक टीवी चैनल पर सेक्सुअल सेवर लेने जैसे गंभीर आरोप लगाए थे। उसके बाद ही डीडीसीए के वर्किंग प्रेसिडेंट चेतन चौहान ने केजरीवाल पर मानहानि का मुकदमा ठोकने का दावा किया था, जिसको एसोसिएशन ने पूरा कर दिखाया। साभार: अमर उजाला


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment

Related Posts

loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें
SHARE