नई दिल्ली | दुनिया के 90 से ज्यादा देशो पर साइबर अटैक हुआ है. साइबर अपराधियों ने लोगो से वसूली करने के लिये उनके कंप्यूटर पर हमला किया है. यहाँ तक की लन्दन के आईटी सेल के भी हैक कर लिया गया है जिसके बाद ब्रिटेन में अस्पताल सेवाओं पर भी गहरा असर हुआ है. इसलिए लोगो को सतर्क करके यह बताया जा रहा है की वो कैसे अपने लैपटॉप, डेस्कटॉप को इन हमले से बचा सकते है.

और पढ़े -   देखे वीडियो: लद्दाख में चीनी सैनिकों ने पत्थरबाजी के साथ भारतीय सैनिकों से की थी हाथापाई

मिली जानकारी के अनुसार साइबर अपराधी लोगो के कंप्यूटर पर ‘रैंसमवेयर अटैक’ कर रहे है. रैंसमवेयर अटैक वो हमला होता है जिसके जरिये वो किसी के कंप्यूटर से निजी जानकारिया, फोटो आदि चुराकर उनको आपके सिस्टम से डिलीट कर देते है. इसके बाद वो सभी जानकारियो और तस्वीरो को वापिस देने के लिए फिरौती की मांग करते है. अभी भारतीय हैकरो ने पाकिस्तान की कुछ वेबसाइट के ऊपर भी यह अटैक किया था.

और पढ़े -   अमित शाह को जेल पहुँचाना मेरी जिंदगी की सबसे बड़ी उपलब्धि: राणा अय्यूब

इन हमलो से बचने के लिए सबसे पहले आपको अपने सभी दस्तावेजो और तस्वीरो का बैकअप लेना चाहिए. बैकअप के लिए एक्सटर्नल हार्ड डिस्क का इस्तेमाल करे तो बेहतर होगा. नही तो हो सकता है की कंप्यूटर में लिया गया बैकअप भी साइबर अपराधी डिलीट कर दे. इसके अलावा ऐसा कोई भी सॉफ्टवेर सिस्टम में इंस्टाल न करे जिसके बारे में आपको कोई जानकारी नही है.

और पढ़े -   किरण रिजीजू के रोहिंग्या मुस्लिम को वापिस म्यांमार भेजने के बयान पर भड़के डॉ ज़फरुल इस्लाम

दरअसल साइबर अपराधी इन्ही सॉफ्टवेर के जरिये आपके कंप्यूटर पर हमला करते है. दरअसल कभी कभी ईमेल में या किसी कंटेंट को डाउनलोड करते समय कुछ ऐसे लिंक पर क्लिक हो जाता है जिससे एक सॉफ्टवेर कंप्यूटर में इंस्टाल होना शुरू हो जाता है. अगर आपको ऐसे किसी सॉफ्टवेर को इंस्टाल करने के लिए बोला जाता है जिस पर आपको सन्देश है तो उसको इंस्टाल मत कीजिये.


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE