hj

मुंबई की प्रसिद्ध दरगाह हाजी अली में मुख्य मजार तक महिलाओं के प्रवेश को प्रतिबंधित करने के लिए दायर की गई याचिका पर सुनवाई करते हुए सुप्रीम कोर्ट ने बॉम्बे हाईकोर्ट के आदेश पर रोक लगा दी हैं. जिसके बाद फिलहाल तो दरगाह में महिलाओं के प्रवेश पर रोक लग गई हैं.

हाजी अली दरगाह ट्रस्ट की मांग पर हाईकोर्ट ने फैसले को तुरंत प्रभाव से लागू नहीं किया था और फैसले पर छह हफ्तों के लिए रोक लगा दी थी. इस दौरान हाजी अली दरगाह द्वारा ट्रस्ट द्वारा सुप्रीम कोर्ट में याचिका दाखिल करके मामले की जल्द सुनवाई की मांग की गई थी.

सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि अगर दरगाह के एक प्वाइंट तक पुरुषों को जाने की इजाजत है और महिलाओं को नहीं तो ये दिक्कत की बात है. साथ ही कोर्ट ने कहा कि दरगाह को प्रोग्रेसिव स्टैंड के साथ सुप्रीम कोर्ट में आना चाहिए. कोर्ट ने पूछा कि सबरीमाला मंदिर मामले में इस मामले में क्या अंतर है.

गौरतलब रहें कि मुंबई हाईकोर्ट ने 26 अगस्त को 2016 से महिलाओं के जाने पर लगी पाबंदी को असंवैधानिक बताते हुए हटा दिया था. कोर्ट ने कहा था कि महिलाओं के हाजी अली दरगाह में जाने से रोकना संविधान 14,15 और 25 की अवहेलना है.


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें