kashmir-2-620x400

8 जुलाई को हुई हिजबुल कमांडर बुरहान वानी की मौत के बाद शुरू हुई हिंसा को अब पुरे तीन महीने हो चुके हैं. लेकिन अब भी हालात में अब भी कोई खास सुधार नहीं हैं. ऐसे में अब सबसे लम्बा कर्फ्यू लगने का रिकॉर्ड बन चूका हैं.

चौथे महीने में पहुंच चुके इस कर्फ्यू में अब तक प्रदर्शन के दौरान 95 लोगों की मौत हो चुकी है साथ ही हजारों लोग घायल हैं. इसके अलावा पेलेट से घायल हजारों लोगों की आँखों की रौशनी जा चुकी हैं. एक अनुमान के मुताबिक इन तीन महीनों में कश्मीर को 12 हजार करोड़ रुपये का आर्थिक नुकसान भी हो चूका हैं.

कश्मीरी अर्थशास्त्रियों के अनुसार कश्‍मीर को प्रति दिन 120 करोड़ रुपये के आर्थिक नुकसान का सामना करना पड़ रहा है. विरोधी प्रदर्शनों के दौरान भी तक 10000 से ज्यादा लोगों को गिरफ्तारी हो चुकी हैं. मध्य कश्मीर के श्रीनगर, बडगाम और गांदरबल जिलों में लगभग 1000 से ज्यादा युवकों को गिरफ्तार किया गया है.

पुलिस के एक अधिकारी ने बताया कि पिछले तीन महीनों के दौरान कश्मीर के विभिन्न पुलिस स्टेशनों में 2300 एफआईआर दर्ज की गई है. उन्होंने कहा कि अभी तक 4318 लोगों को गिरफ्तार किया गया है जिनमें से 925 पुलिस थानों में बंद है जबकि बाकी लोगों को जमानत पर रिहा कर दिया गया है


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें