देश भर से किसानों की खुदखुशी के मामले रोज सामने आ रहे हैं लेकिन किसानों की कोई सुध नहीं ले रहा हैं. सरकारें सिर्फ नारों में ही देश बदलना चाहती हैं. महाराष्ट्र के जलगाव में मात्र 35000 रूपये का कर्जा ना चूका पाने के कारण एक किसान ने खुद को जिन्दा जला कर आत्महत्या कर ली.

पुलिस के अनुसार किसान नामदेव (70) गांव सबगव्‍हाण, तहसील अमलनेर पर 35000 रूपये का कर्ज था. नामदेव के परिवार में उसकी पत्‍नी, तीन बेटे और एक बेटी है. काफी कोशिश के बाद भी वह कर्ज नहीं चुका पाया तो उसने पहले खुद की चिता बनाई और उसमे खुद को जिन्दा जला डाला.

और पढ़े -   मुसलमानों पर हो रहे हमलो के बीच मोदी की चुप्पी पर उठ रहे सवाल, बीजेपी अल्पसंख्यक मोर्चा आया बचाव में

पुलिस के मुताबिक नामदेव घर से खेत के लिए निकला था. उसके बाद गांव के लोगों ने खेत में आग लगने की खबर पाकर तुरंत पुलिस को जानकारी दी. पुलिस ने बताया कि जब वे मौके पर पहुंचे तो वहां एक चिता जल रही थी.  पुलिस ने नामदेव के खेत के पास बने कमरे से उसका आधार कार्ड, कुछ पैसे और तेल की बोतल बरामद की है, जिससे साफ है कि किसान ने आत्‍महत्‍या की है.

और पढ़े -   भारत में क़तर रियाल को बदलने में किसी भी प्रकार की रोक नहीं: आरबीआई

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE