देश भर में गौरक्षा के नाम पर अल्पसंख्यक और दलित समुदाय को लगातार हिंसा का शिकार बनाया जा रहा हैं. अभी गुजरात के उना में गौरक्षा के नाम पर दलितों की पिटाई और फिर मध्यप्रदेश के मदसौर में बीफ तस्करी का आरोप लगाकर दो मुस्लिम महिलाओं की सरेआम पिटाई का मामला शांत नहीं हुआ था कि अब उत्तरप्रदेश के मुज्जफरनगर से ऐसा ही मामला सामने आया हैं.

और पढ़े -   गौरक्षा के नाम पर हो रही हिंसा के शिकार लोगो मुआवजा दे राज्य सरकारे- सुप्रीम कोर्ट

मुजफ्फरगनर के काधली गांव में गौहत्या का आरोप लगा कर स्थानीय निवासी जिशान कुरैशी के घर पर हमला बोल दिया. उग्र भीड़ ने कुरैशी के घर को नुकसान पहुंचाया और उसे आग आग के हवाले करने की कोशिश भी की. लेकिन वक्त रहते पुलिस घटनास्थल पर पहुंच गयी और हालात पर काबू पा लिया.

इस मामलें में पुलिस ने परिवार के सदस्यों के खिलाफ कथित गोहत्या का एक मामला दर्ज कर जिशान कुरैशी को गिरफ्तार किया हैं. साथ ही  भीड़ के कई लोगों के खिलाफ भादंसं की धारा 147, 427और 452के तहत मामला दर्ज किया गया है.

और पढ़े -   रोहिंग्या शरणार्थियों की आने की संभावना के चलते भारत ने म्यांमार के साथ की अपनी सीमा सील

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE