savarkar and bhagat singh

नई दिल्ली। – भारत में विपक्षी दल कांग्रेस ने वीडी सावरकर को देशद्रोही घोषित कर दिया है जिस पर हंगामा शुरू होने की संभावना है।

सत्ताधारी भाजपा और हिंदूवादी संगठन के निकट विशेष महत्व रखने वाले वीडी सावरकर के बारे में कांग्रेस ने एक ट्वीट किया है जिसमें सावरकर को देशद्रोही सिद्ध किया गया है। भारतीय मीडिया के अनुसार भगत सिंह का शहादत दिवस मनाते हुए कांग्रेस ने एक ट्वीट में भगत सिंह व सावरकर की तस्वीरें जारी कीं, जिसमें भगत सिंह को ‘शहीद’, जबकि सावरकर को ‘गद्दार’ कहा है।

और पढ़े -   एनडीए के राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार रामनाथ कोविंद भी नहीं रहे विवादों से अछूते, कुमार विश्वास ने भी उठाये सवाल

तस्वीरों के नीचे दोनों द्वारा ब्रिटिश सरकार को लिखी गई अर्ज़ी का कुछ अंश भी प्रकाशित किया गया है। भागत सिंह ने वर्ष 1931 में लाहौर जेल से लिखी गई अंतिम अर्जी में कहा कि ब्रिटिश राष्ट्र व भारत राष्ट्र के बीच वर्तमान में युद्ध जैसे हालात हैं और चूंकि हमने इस युद्ध में हिस्सा लिया, इसलिए हम युद्ध बंदी हैं।

और पढ़े -   ट्रेन में झड़प के बाद मुस्लिम युवक की चाकू से गोदकर हत्या

कांग्रेस की इस ट्वीट में सावरकर की एक अर्ज़ी का भी एक अंश शामिल है और कांग्रेस की ट्वीट के अनुसार यह अर्ज़ी सावरकर ने वर्ष 1913 में अंडमान स्थित सेल्यूलर जेल से भेजी थी। सावरकर ने अपनी इस अर्जी में लिखा था कि यदि सरकार मुझपर एहसान करती है और दया कर मुझे रिहा करती है, तो मैं संवैधानिक प्रगति की वकालत करूंगा और ब्रितानिया हुकूमत के प्रति श्रद्धा रखूंगा, जो उस प्रगति की सबसे महत्वपूर्ण शर्त है।।

और पढ़े -   ट्रेन में नफरत की भेंट चढ़े जुनैद के पिता ने मोदी से पुछा, देश में मुसलमानों के प्रति इतनी नफरत क्यों?

कांग्रेस ने यह ट्वीट भगत सिंह, राजगुरु व सुखदेव के शहादत दिवस के अवसर पर किया है। ब्रिटिश सरकार ने 23 मार्च, 1931 को उन्हें फांसी दे दी थी।


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE