विश्व प्रसिद्ध जवाहरलाल नेहरु विश्वविद्यालय की छवि को नुकसान पहुंचाने को लेकर जेएनयू छात्रसंघ ने सोमवार को सोशल नेटवर्किंग साइट ट्विटर पर तीन अकाउंट्स के ख़िलाफ़ सख्त कार्रवाई करने के लिए पुलिस की साइबर सेल में शिकायत दर्ज कराई है.

शिकायत में छात्रसंघ ने आरोप लगाया है कि भाजपा सांसद सुब्रमण्यम स्वामी के साथ दो अन्य ट्विटर अकाउंट्स ने आपत्तिजनक पोस्ट कर यूनिवर्सिटी को बदनाम किया है. जेएनयू छात्रसंघ अध्यक्ष मोहित पांडे ने कहा कि यूनिवर्सिटी को बदनाम करने के लिए भाजपा और आरएसएस समर्थित ट्विट्स अकाउंट्स के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जानी चाहिए.

शिकायत के मुताबिक, 30 अप्रैल को swami_sena नाम के ट्विटर हैंडल ने एक साल पुरानी न्यूज रिपोर्ट को शेयर किया और कहा कि यूनिवर्सिटी के टीचर्स द्वारा तैयार दस्तावेज कहते हैं जेएनयू सेक्स रैकेट का अड्डा है. ख़ास बात ये हैं कि इस ट्विट को भाजपा नेता सुब्रमण्यम स्वामी द्वारा रिट्वीट किया गया जिनके करीब चार लाख फॉलोवर्स हैं.

वहीँ एक अन्य ट्विटर अकाउंट @mera bharat ने ट्वीट किया कि अमीर लोगों की नाईट पार्टी की लड़कियों के लिए 1980 से जेएनयू जीबी रोड से बड़ा अड्डा रहा है. शिकायत में आगे कहा गया है कि किसी भी अथॉरिटी के पास जेएनयू को ऑनलाइन या ऑफलाइन अपशब्द कहने का अधिकार नहीं है.

मोहित ने कहा कि हम राष्ट्रीय महिला आयोग से भी शिकायत करेंगे। जेएनयू देश की प्रतिष्ठित यूनिवर्सिटीज़ में से एक है. सरकार जब तक इन ट्विटर यूजर्स के खिलाफ सख्त कार्रवाई नहीं करती, तब तक हम उसके खिलाफ लड़ेंगे। यह हरकत बेहद शर्मनाक है.


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

अभी पढ़ी जा रही ख़बरें

SHARE