महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेन्द्र फडणवीस के दफ़्तर के बाहर तीन लोगो ने आत्महत्या की कोशिश कर प्रसाशन को हिला के रख दिया. सबसे पहले, दिलीप मोरे नाम के किसान ने मुख्यमंत्री के ऑफिस के सामने जहर पीकर आत्महत्या की कोशिश की. औरंगाबाद से आये दिलीप अपने भाई की हत्या की जांच कराने के साथ ही उन्हें अपने खेत में कुंआ खुदवाने के लिए वित्तीय सहायता की जरूरत थी. जिसके चलते उन्होंने ये कदम उठाया.

और पढ़े -   रोहिंग्या मुद्दे पर केंद्र ने दाखिल किया हलफनामा, कहा - राष्ट्र की सुरक्षा के लिए खतरा

दूसरे मामले में मुंबई के मुलुंड निवासी दिनेश पड़ाया जो कि घर के पुनर्निमाण से जुड़ी समस्याओं से परेशान था अपने घर से ही कुछ दवाएं खाकर आया था जिसके कारण पुलिस ने इलाज के लिए दिनेश को सेंट जॉर्ज अस्पताल में दाखिल कराया है.

तीसरे मामले में जलगांव के छात्र हीरालाल ढाकणे ने मंत्रालय की चौथी मंजिल से कूदकर खुदखुशी की कोशिश की. हालाँकि उसे समय पर बचा लिया गया. हीरालाल ने स्कॉलरशिप के लिए खुदखुशी करने की कोशिश की.

और पढ़े -   बिना ब्रेक के दरभंगा एक्सप्रेस 350 किलोमीटर तक दौड़ी, हादसा होने से बाल-बाल बचा

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE