जो 'भारत माता की जय' नहीं बोलेगा, उसे देश में रहने का अधिकार नहीं : फडणवीस

मुंबई: देश में इन दिनों ‘भारत माता की जय’ नारे को लेकर जबरदस्त राजनीति हो रही है। कुछ लोग हैं जो रह हालत में सभी से यह नारा लगवाना चाहते हैं और कुछ का कहना है कि उनका धर्म इसकी इजाजत नहीं देता तो कुछ इसे जबरदस्ती थोपी जाने वाली ‘राष्ट्रभक्ति’ करार दे रहे हैं। इसी सियासत में अब महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस भी कूद पड़े हैं।


फडणवीस ने कहा कि जो ‘भारत माता की जय’ नहीं बोलेगा, उसे देश में रहने का कोई अधिकार नहीं है। फडणवीस ने नासिक के एक कार्यक्रम मे कहा है कि इस देश में सभी को ‘भारत माता की जय’ बोलना ही पड़ेगा। जय नहीं बोलने वालों को देश में रहने का कोई अधिकार नहीं है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि इस देश में किन लोगों की हिम्मत है कि वो ‘भारत माता की जय’ न कहें। इस देश में ‘भारत माता की जय’ बोलना पड़ेगा और अगर जो ‘भारत माता की जय’ नहीं बोलता है, उसको देश में रहने का अधिकार नहीं है।

इससे पहले गुरुवार को ही दारुल उलूम देवबंद ने ‘भारत माता की जय’ बोलने के मसले पर फतवा जारी किया था। दारुल उलूम ने इसे गैर इस्लामी बताया था। इसके बाद से विवाद और बढ़ गया। इतना तो तय है कि नारों से शुरू हुई ये पूरी बहस कहीं न कहीं देश को मज़बूत करने की जगह कमज़ोर ही करेगी। (NDTV INDIA)


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें