नई दिल्ली | सोमवार को चीनी मीडिया के एक दावे ने भारत में खलबली मचा दी. चीनी मीडिया ने दावा किया की उनके सैनिको के हमले में भारतीय सेना के 158 सैनिक मार गिराए गए. हालाँकि भारत ने इन दावों का खंडन किया है. उधर पाकिस्तान ने भी चीनी मीडिया के प्रभाव में यह खबर पुरे जोर शोर से चलाई. पाकिस्तान के एक चैनल दुनिया न्यूज़ ने अपनी रिपोर्ट में दावा किया की चीनी सेना के राकेट हमले में भारत के 158 मार गए जबकि कई अन्य घायल हो गए.

दरअसल भारत और चीन के बीच डोकलाम में सड़क निर्माण को लेकर तनातनी चल रही है. उधर चीन लगातार भारत को युद्ध की गीदड़भभकी दे रहा है. यही नही करीब एक महीने के अंतराल में चीनी सेना ने भारतीय सीमा के नजदीक सैन्य युद्धअभ्यास भी किया है. रविवार को ही चीनी मीडिया ने दावा किया था की देश की पीपल्स लिबरेशन आर्मी ने अरुणाचल प्रदेश के नजदीक करीब 11 घंटे तक युधाभ्यास किया.

युधाभ्यास की खबरों के अगले ही दिन चीन के चाइना सेंट्रल टीवी ने एक दो मिनट की विडियो जारी की. इस विडियो के जरिये दावा किया गया की चीनी सेना ने भारतीय सेना पर राकेट लांचर, मशीन गन और मोर्टार से हमला किया. इस हमले में भारत के कई सैनिक घायल हो गए और करीब 158 सैनिक मार गिराए गए. इस विडियो में चीनी सैनिको को भारतीय पोस्ट पर हमला करते हुए दिखाया गया.

उधर भारत ने चीनी मीडिया के इस दावे का खंडन किया है. विदेश मंत्रालय के अधिकारिक प्रवक्ता गोपाल बागले ने कहा की ऐसी रिपोर्ट बिलकुल गलत और आधारहीन है. एक जिम्मेदार मीडिया को ऐसी कोई भी रिपोर्ट नही चलानी चाहिए. उधर पाकिस्तान ने भी चीनी मीडिया की इस रिपोर्ट के आधार पर अपना प्रोपेगेंडा शुरू कर दिया. पाकिस्तान के न्यूज़ चैनल दुनिया न्यूज़ ने सोमवार को इस रिपोर्ट को प्रमुखता से प्रकाशित किया.


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

अभी पढ़ी जा रही ख़बरें

SHARE