पिछले आठ महीनों से लापता जवाहर लाल नेहरू विश्वविद्यालय (जेएनयू) के छात्र नजीब अहमद के बारे में सुराग देने वाले को सीबीआई ने दस लाख रुपये का ईनाम देने की घोषणा की है,  इससे पहले मामले की जांच कर रही दिल्ली पुलिस ने भी नजीब के संबंध में सूचना देने पर 10 लाख रुपये का इनाम घोषित किया था.

नजीब अहमद को ढूंढ़ने के लिये सीबीआई की टीम सोमवार (19 जून) को विश्वविद्यालय परिसर का दौरा कर चुकी है. नजीब पिछले साल 14-15 अक्टूबर की रात से ही कॉलेज छात्रावास से लापता है. कथित तौर पर लापता होने से पहले एबीवीपी के कार्यकर्ताओं ने नजीब से मारपीट की थी.

और पढ़े -   मोदी ने जूता पहनकर झंडा फहराया तो शांति, मुस्लिम प्रिंसिपल पर किया गया हमला

कोर्ट के आदेश के बाद सीबीआई ने 2 जून को इस मामले में एफआईआर दर्ज की है. तब से नजीब की तलाश में सीबीआइ की जांच जारी है.

नजीब अहमद की मां फातिमा नफीस ने पहले भी कोर्ट से सीबीआई जांच की मांग की थी. नफीस ने बंदी प्रत्यक्षीकरण याचिका की है, जिस पर हाई कोर्ट ने सुनवाई करते हुए जांच CBI को सौंपने के निर्देश दिए थे.

और पढ़े -   गोरखपुर हादसा: डीएम की जांच रिपोर्ट में डॉ कफील को मिली क्लीन चिट, प्रिंसिपल को ठहराया गया जिम्मेदार

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE