बाबरी मस्जिद की शहादत मामलें में आज से रोजाना सुनवाई शुरू हो गई है. ये सुनवाई सीबीआई की विशेष अदालत कर रही है. इस मामले में लालकृष्ण आडवानी, उमा भारती सहित बीजेपी के कई बड़े नेता आरोपी है.

इस मामलें में आज यानि सोमवार को लालकृष्ण आडवाणी के साथ ही मुरली मनोहर जोशी, उमा भारती व अन्य के वकीलो ने सीबीआई अदालत में हाजिरी माफी की अर्जी दी जिसे अदालत ने मंजूर कर लिया है. सीबीआई अदालत पिछली 19 अप्रैल को सुप्रीम कोर्ट द्वारा दिए गए आदेश का पालन करते हुए रोजाना सुनवाई करेगी.

और पढ़े -   स्मृति ईरानी पर भड़के पहलाज निहालानी, कहा - ‘इंदु सरकार’ के चलते मुझे हटाया गया'

सुप्रीम कोर्ट के आदेश के तहत बीजेपी के प्रमुख नेताओं लाल कृष्ण आडवाणी, मुरली मनोहर जोशी, उमा भारती समेत विहिप के कई नेताओं पर सीबीआई विशेष कोर्ट में ट्रायल चलाया जाना है. सुप्रीम कोर्ट ने अपने आदेश में बाबरी मस्जिद शहादत को देश के संविधान के धर्मनिरपेक्ष तत्व को झकझोर देने वाला अपराध बताया चूका है.

इसी मामले में शनिवार को बीजेपी के पूर्व सांसद राम विलास वेदांती, चम्पत राय, बीएल शर्मा, महंत नृत्य गोपाल दस और धर्मदास ने सीबीआई की स्पेशल कोर्ट में आत्मसमर्पण किया था, हालांकि उन्हें जमानत मिल गई है.

और पढ़े -   ईद के दिन सडको पर नमाज पढने से रोक नही तो थानों में जन्माष्टमी मनाने पर किस हक़ से लगाये रोक - योगी आदित्यनाथ

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE