नई दिल्ली: केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) ने पर्ल्स ग्रुप के चेयरमैन एवं प्रबंध निदेशक निर्मल सिंह भंगू और तीन अन्य अधिकारियों को 45,000 करोड़ रपये के घोटाले में गिरफ्तार कर लिया। इस घोटाले में 5.5 करोड़ निवेशकों को चूना लगाने का आरोप है।

सीबीआई ने 45,000 करोड़ के घोटाले में पर्ल्स ग्रुप के चेयरमैन सहित चार को गिरफ्तार कियापीजीएफ लिमिटेड के चेयरमैन एवं प्रबंध निदेशक तथा पर्ल्स ऑस्ट्रेलेशिया पीटीवाई लिमिटेड के पूर्व चेयरमैन भंगू के अलावा पीएसीएल के प्रबंध निदेशक व प्रवर्तक निदेशक सुखदेव सिंह, कार्यकारी निदेशक (वित्त) गुरमीत सिंह और पीजीएफ-पीएसीएल पॉन्जी स्कीम मामले के कार्यकारी निदेशक सुब्रत भट्टाचार्य को इस मामले में गिरफ्तार किया गया है। सीबीआई के प्रेस सूचना अधिकारी आर के गौड़ ने यह जानकारी दी।

सीबीआई के वरिष्ठ अधिकारियों ने बताया कि चारों कार्यकारियों को एजेंसी के मुख्यालय पर गहन पूछताछ के बाद गिरफ्तार किया गया। सूत्रों ने बताया कि पूछताछ के दौरान उन्होंने बिना तालमेल वाले जवाब देने शुरू किए और साथ ही सहयोग करना भी बंद कर दिया, जिसके बाद उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया।

यह मामला देशभर में 5.5 करोड़ निवेशकों से करीब 45,000 करोड़ रुपये जुटाने का है। गौड़ ने बताया कि इनके खिलाफ आईपीसी की धारा 120 बी (आपराधिक साजिश) तथा 420 (धोखाधड़ी) की धाराओं में मामला दायर किया गया है। निवेशकों को भारी रिटर्न का लालच देकर उनसे धन जुटाया गया था। साभार: NDTV

 


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें