नई दिल्ली | आपने ऐसी कई खबरे सुनी होगी जहाँ दुल्हन एन मौके पर शादी करने से इनकार कर देती है. इसके पीछे कई अजीब वजहे भी सामने आती है. मसलन ससुराल में शौचालय नही होने की वजह से दुल्हन ने किया शादी से इनकार. इसके अलावा दुल्हे के नागिन डांस करने , दुल्हे के किसी खास विषय में कमजोर होने ,पति के खर्राटे लेने ऐसे कई कारण सामने आये जब लड़की ने शादी तोड़ दी या एन मौके पर शादी करने से मना कर दिया.

लेकिन ऐसा शायद ही कभी हुआ हो की दुल्हे की किसी खास नेता को पसंद करने की वजह से शादी टूट गयी हो. हालाँकि हमारे देश में आजकल व्यक्ति पूजा का चलन चल रहा है. जहां देखो वहां लोगो ने अपने राजनितिक भगवान् बनाए हुए है. किसी को मोदी पसंद है तो किसी को केजरीवाल. ये लोग दो ध्रुव की तरह व्यवहार करते है. मतलब इनकी राय कभी भी एक दुसरे से मेल नही खा सकती.

यही कारण है की अगर व्यक्ति पूजा करने वाले अपने भगवान् की बुराई सुनना पसंद नही करते. इसी व्यक्ति पूजा की वजह से उत्तर प्रदेश में एक शादी अपने अंजाम पर पहुँचने से पहले ही टूट गयी. दरअसल उत्तर प्रदेश में एक लड़का लड़की ने केवल इसलिए शादी नही करने का फैसला किया क्योकि लड़का मोदी को पसंद करता था जबकि लड़की इसके बिलकुल विपरीत थी.

टाइम्स ऑफ़ इंडिया की खबर के अनुसार यूपी में एक लड़का लड़की की मंदिर में मुलाकात हुई. बात आगे बढ़ी तो दोनों ने शादी करने का फैसला किया. शादी की तैयारियों के दौरान ही होने वाले दूल्हा दुल्हन कई बार एक दुसरे से मिले. एक दिन शादी की तैयारियों का जायजा लेने पहुंचे दूल्हा दुल्हन जब एक दुसरे से मिले तो दोनों के बीच देश की सुस्त अर्थव्यवस्था को लेकर बहस छिड गयी.

लड़की ने अपना पक्ष रखते हुए इसके लिए प्रधानमंत्री मोदी को जिम्मेदार ठहराया. लेकिन यह बात लड़के को नागवार गुजरी इसलिए उसने मोदी के पक्ष में अपनी बात रखनी शुरू की. इस दौरान दोनों के बीच जमकर बहस हुई जिसका नतीजा यह हुआ की दोनों ने शादी नही करने का फैसला किया. बाद में दोनों ने अपने अपने परिवार वालो को इसकी जानकारी दे दी. इस तरह शादी टूटने का यह पहला मौका है.


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

अभी पढ़ी जा रही ख़बरें

SHARE