मुंबई | आजकल हर टीवी कार्यक्रम में बाबा रामदेव की कंपनी पतंजली के उत्पाद छाए हुए है. कही पर शहद का विज्ञापन तो कही पर शैम्पू, साबुन और क्रीम का. हर जगह बाबा रामदेव लोगो से विदेशी कंपनियों के उत्पाद छोड़ स्वदेशी अपनाने की अपील कर रहे है लेकिन इस दौरान वो अन्य कंपनियों को नीचे दिखाने की कोशिश कर रहे है. साबुन के एक ऐसे ही विज्ञापन में वो हिंदुस्तान यूनीलिवर की साबुन का उपहास उड़ाते नजर आते है.

और पढ़े -   गुजरात दंगो पर झूठ बोलने को लेकर राजदीप सरदेसाई ने अर्नब गोस्वामी को बताया फेंकू

अभी हाल ही में टीवी पर पतंजलि के साबुन का विज्ञापन आना शुरू हुआ है. इस विज्ञापन में हिंदुस्तान यूनीलिवर कंपनी की साबुन पियर्स और लाइफ बॉय का मजाक बनाया गया है. विज्ञापन में पियर्स के लिए ‘टीयर्स बढ़ाए फीयर्स’ और लाइफबॉय के लिए ‘लाइफ ज्वॉय ना लाओ नियर’ जैसी पंक्तियों का इस्तेमाल किया गया है. इस विज्ञापन के जरिये पतंजलि ने इन साबुन में हानिकारक केमिकल इस्तेमाल करने का भी आरोप लगाया है.

और पढ़े -   फर्जी बाबाओ की लिस्ट जारी करने वाले महंत मोहन दास हुए लापता, मोबाइल भी आ रहा स्विच ऑफ

पतंजलि का यह विज्ञापन 2 सितम्बर से ऑन एयर होना शुरू हुआ है. लेकिन हिंदुस्तान यूनीलिवर ने इस विज्ञापन आपत्ति जताते हुए बम्बई हाई कोर्ट में अपील की. बुधवार को हाई कोर्ट ने मामले की सुनवाई करते हुए पतंजलि के विज्ञापन पर रोक लगा दी. हाई कोर्ट ने अगला आदेश आने तक इस विज्ञापन को ऑन एयर नहीं करने का आदेश दिया है. इस मामले की अगली सुनवाई 18 सितम्बर को की जायेगी।

फ़िलहाल कोर्ट के आदेश पर पतंजलि की और से कोई भी प्रतिक्रिया नहीं मिली है. हालाँकि हिंदुस्तान यूनीलिवर के प्रवक्ता ने हाई कोर्ट  के आदेश की पुष्टि करते हुए कहा की कोर्ट ने पतंजलि के विज्ञापन पर रोक लगा दी है. बताते चले की देश में साबुन का कारोबार 15 हजार करोड़ रूपए का है. जिसमें 50 फीसदी पर हिंदुस्तान यूनीलिवर का कब्ज़ा है. लक्स, पियर्स, लाइफबॉय और डव जैसे साबुन पुरे भारत में छाए हुए है.

और पढ़े -   बड़ी खबर: 600 करोड़ में बिका एनडीटीवी, बीजेपी नेता अजय सिंह होंगे नए मालिक

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE