मध्‍यप्रदेश से बीजेपी के सांसद और पार्टी की कार्यकारी समिति के अध्‍यक्ष गणेश सिंह ने अपने पद का रौब दिखा कर मुंबई के सिद्धिविनायक मंदिर को गुरुवार आधी रात खुलवाने के लिए हंगामा खड़ा कर दिया। वह जिद पर अड़े थे कि उनके लिए सिद्धिविनायक मंदिर के पट आधी रात को खोले जाएं, लेकिन मांग पूरी नहीं होने पर उन्हें तय वक्त पर दर्शन करने के लिए मजबूर होना पड़ा।

बीजेपी सांसद गणेश सिंहबीजेपी सांसद अपने 3 समर्थकों को लेकर रात करीब 12 बज कर 15 मिनट पर सिद्धिविनायक मंदिर पहुंचे। इसके बाद उन्‍होंने मंदिर के पट खोलने की मांग की।

यहां बता दें कि आमतौर पर इस मंदिर के पट भक्‍तों के लिए सुबह 4 बजे खोले जाते हैं, लेकिन शुक्रवार को नया साल का पहला दिन होने के कारण इसे गुरुवार रात डेढ़ बजे खोला जाना था। लेकिन सतना से बीजेपी के यह सांसद एक घंटा भी इंतजार करने के लिए तैयार नहीं थे। उनसे जब कहा गया कि उन्‍हें थोड़ी देर इंतजार करना होगा तो वह बीजेपी में अपने पद का रौब दिखा कर धमकी देने लगे।

घटना के वक्त वहां मौजूद असिस्‍टेंट पुलिस इंस्‍पेक्‍टर अरुण कोपकर ने बताया कि मंदिर के गार्ड ने सांसद से कहा कि उन्‍हें 1.30 बजे तक रुकना होगा। मगर, वह बात सुनने को तैयार नहीं थे। वह मंदिर के गार्ड्स से करीब 10 मिनट तक बहस करते रहे। हालांकि, जब उन्‍हें अहसास हुआ कि उनके लिए नियमों में कोई ढील नहीं दी जाएगी तो वह वापस लौट गए। अरुण ने बताया कि इसके बाद वह दोबारा 1.30 बजे आए और शांति से दर्शन किए।

पूरी घटना मंदिर के बाहर लगे सीसीटीवी कैमरे में रिकॉर्ड हो गई है। इस बारे में सांसद से बातचीत करने की कोशिश की गई, लेकिन उनसे संपर्क नहीं हो पाया। साभार: नवभारत टाइम्स


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

Related Posts

loading...
Facebook Comment
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें