भाजपा ने फैसला किया है कि विभिन्‍न जिलों में 20 मार्च से 26 मार्च तक ‘रंग दे बसंती चोला सप्‍ताह’ मनाया जाएगा।

‘राष्ट्रवाद’ के मुद्दे पर विपक्षी पार्टियों का मुकाबला करने के लिए बीजेपी के काशी क्षेत्र की यूनिट ने फैसला किया है कि वे इस बार होली सिर्फ भगवा रंग से मनाएंगे। इस बार के होली मिलना कार्यक्रम की थीम ‘रंग दे बसंती चोला’ होगा। इस कार्यक्रम में भगत सिंह, सुखदेव और राजगुरु जैसे शहीदों को याद किया जाएगा।

पार्टी 22 मार्च को होली जबकि 23 मार्च को शहीद दिवस मनाएगी। बता दें कि 23 मार्च के दिन ही भगत सिंह, सुखदेव और राजगुरु को फांसी दी गई थी। पार्टी ने फैसला किया है कि विभिन्‍न जिलों में 20 मार्च से 26 मार्च तक ‘रंग दे बसंती चोला सप्‍ताह’ मनाया जाएगा। काशी क्षेत्र के बीजेपी मीडिया इनचार्ज संजय भारद्वाज ने बताया, ” इन कार्यक्रमों में भगत सिंह, सुखदेव और राजगुरु के साथ भारत माता की तस्‍वीरें लगाई जाएंगी। बड़े नेता उस सच्‍चे राष्‍ट्रवाद के मुद्दे पर लोगों को संबोधित करेंगे, जिसकी वजह से इन शहीदों ने जान दे दी। हमारे नेता लोगों को बताएंगे कि विपक्षी पार्टियां मोदी सरकार को इसलिए निशाना बना रही है क्‍योंकि जेएनयू में राष्‍ट्रविरोधी नारे लगाने वाले छात्रों के खिलाफ कार्रवाई की गई। अब वे सेना के बारे में भी आपत्‍त‍िजनक टिप्‍पणी कर रहे हैं।”

भारद्वाज ने बताया कि इस तरह के कार्यक्रम में पार्टी के नेता लोगों से बताएंगे कि जेएनयू में देश विरोधी नारे लगाने वाले छात्र पीएम के खिलाफ कुछ पार्टियों के लिए प्रचार करने जाएंगे। भारद्वाज के मुताबिक, लोगों को यह समझना चाहिए कि देश विरोधी नारों को अभिव्‍यक्‍त‍ि की स्‍वतंत्रता के नाम पर नजरअंदाज नहीं किया जा सकता। (Jansatta)


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें