उत्तराखण्ड में राष्ट्रपति शासन लगाये जाने के बाद हरीश रावत ने कहा है कि उनकी सरकार गिराने के लिए बीजेपी ने बागियों को 1000 करोड़ रुपये की घूस दी है। उन्होंने यह भी आरोप लगाया कि घूस की ये रकम 500 से 1000 करोड़ रुपये के बीच है और इंडियाबुल्स के मार्फत बाग़ी विधायकों के पास पहुंचायी गयी है। उन्होंने कहा कि जब तक उनके पास औपचारिक सूचना नहीं आयेगी तब तक वो मुख्य मंत्री कार्यालय में बने रहेंगे।

हरीश रावत का इशारा बाग़ियों के नेता विजय बहुगुणा के बेटे साकेत बहुगुणा की ओर था। साकेत, इंडिया बुल्स में बरिष्ठ पद पर कार्यरत हैं। हरीश रावत ने कहा है कि बीजेपी ने उत्तराखण्ड सरकार को गिरा कर लोकतंत्र की हत्या की है। बीजेपी जब जनता की अदालत में हार गयी तो अब वो तानाशाही और षडयंत्रो के जरिए सत्ता हासिल करने में लगी है। उन्होंने यह कहा कि बीजेपी की सत्ता की भूख अभी कम नहीं हुई है वो कॉंग्रेसी सरकारों को अस्थिर करने में लगी हुई है। (News24)


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें