jnu 620x400

नई दिल्ली | हाल फ़िलहाल में दिल्ली की जवाहर लाल यूनिवर्सिटी कई अच्छे बुरे कारणों से चर्चा में रही है. कैंपस में कश्मीर की आजादी के नारे लगाने और छात्र नजीब अहमद के लापता होने समेत यूनिवर्सिटी में कई ऐसी घटनाए हो चुकी है जिसकी वजह से यह यूनिवर्सिटी सुर्खियों में रही. हालाँकि यूनिवर्सिटी के बारे में कितनी भी नकारात्मकता फैलाई जाए लेकिन जब उच्च कोटि के विश्वविधालयो की बात आती है तो जेएनयु हमेशा से इस लिस्ट में शामिल रही है.

लेकिन एक बार फिर यह प्रतिष्ठित विश्वविधालय चर्चा में है. खबर है की यूनिवर्सिटी प्रशासन ने चार छात्रों पर कैंपस में बिरयानी पकाने के आरोप में भारी भरकम जुर्माना लगाया है. चारो छात्रों पर यूनिवर्सिटी के नियमो के उलंघन करने का हवाला देकर यह जुर्माना लगाया गया. इन छात्रों में एक छात्र जीएनयु छात्र संघ का महासचिव भी शामिल है. हालाँकि छात्र संगठन ABVP ने यूनिवर्सिटी प्रशासन की इस कार्यवाही को सही ठहराया है.

मिली जानकारी के अनुसार इसी साल 27 जून में छात्र संघ के महासचिव शत्रुपा चक्रवर्ती और तत्कालीन छात्र संघ अध्यक्ष मोहित कुमार पाण्डेय , छात्रों की कुछ मानगो को लेकर वीसी से मिलने गए थे. इस दौरान वहां इन्होने वीसी विरोधी नारे भी लगाए. यही नही जब उनको वहां से जाने के लिए कहा गया तो इन्होने इनकार कर दिया. इसके बाद चार छात्रों ने मिलकर, जिसमे शत्रुपा भी शामिल थे, ने कैंपस में बिरयानी पकाई.

उस समय मामले की जांच के लिए एक समित का गठन किया गया था. अब समिति ने अपनी रिपोर्ट सौंप दी है. इसमें चार छात्रों को नियमो के उलंघन का दोषी ठहराते हुए इन पर जुर्माना लगाने की सिफारिश की. इसके बाद इन छात्रों पर 6 हजार से लेकर 10 हजार रूपए तक का जुर्माना लगाया गया. उधर मामले में प्रतिक्रिया देते हुए ABVP ने आरोप लगाया की आरोपी छात्रों ने उस दिन बीफ बिरयानी बनाई थी.


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

अभी पढ़ी जा रही ख़बरें

SHARE