नई दिल्ली | सोमवार को अमरनाथ यात्रियों पर हुए आतंकी हमले के बाद से ही देश की सियासत गरमाई हुई है. विपक्ष ने जहां इसे केंद्र और राज्य सरकार की विफलता करार दिया वही सत्ता पक्ष का कहना है की अमरनाथ यात्रा के लिए सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किये गए है. उधर आज घाटी में ख़राब होते हालातो पर चर्चा करने के लिए जम्मू कश्मीर की मुख्यमंत्री महबूबा मुफ़्ती , केन्द्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह से मिली.

मुलाकात के बाद मीडिया से बात करते हुए महबूबा मुफ़्ती ने कई चौकाने वाले बयान दिए. उन्होंने घाटी में चीन के दखल देने की बात करते हुए कहा की चीन ने भी कश्मीर के मामलो में हाथ डालना शुरू कर दिया है. इसके अलावा अमरनाथ यात्रियों पर हुए आतंकी हमले के पीछे साजिश की बात करते हुए मुफ़्ती ने कहा की यह संप्रदायिक माहौल बिगाड़ने की साजिश है.

और पढ़े -   शिवराज में जंगलराज, बंधुआ मजदूरी से मना करने पर दलित महिला की काटी गयी नाक

अमरनाथ हमले पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए मुफ़्ती ने कहा की दुश्मन चाहते थे की इस हमले के बाद देश का संप्रदायिक माहौल बिगड़ जाए. लेकिन पुरे देश में संप्रदायिक सद्भाव बना रहा है. इसके लिए मैं पुरे देश का धन्यवाद कहना चाहती हूँ. मैं इस कठिन समय में हमारा साथ देने के लिए गृह मंत्री राजनाथ सिंह जी का भी शुक्रिया अदा करती हूँ.  मैं खुश हूँ की इस मसले में सभी राजनितिक दल एकजुट है.

और पढ़े -   मोदी के भाषण पर उमर अब्दुल्ल्ला का तंज कहा, उम्मीद है उनकी दलील सुरक्षा बलों के लिए भी

मुफ़्ती ने कहा की घाटी के माहौल को बिगाड़ने में बाहरी ताकते शामिल है, घुसपैठ हो रही है, आतंकी आ रहे है. दुर्भाग्य से अब चीन ने भी हाथ डालना शुरू कर दिया है. धारा 370 पर मुफ़्ती ने कहा की जब हमने जीएसटी पास किया तब प्रेजिडेंट ने फिर से पुष्टि की कि धारा 370 का खास ख्याल रखा जाए. यह हमारे जज्बात से जुडी हुई है. बताते चले की यह पहला मौका है जब किसी बड़े नेता ने घाटी में चीन के दखल की बात स्वीकारी है.

और पढ़े -   आरएसएस की बहिष्कार मुहिम नहीं आई काम, भारत ने चीन से किया 33% ज्‍यादा आयात

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE