रामपुर | एक तरफ पुरे देश में बीफ , गाय और गौरक्षा के नाम पर पुरे देश में बवाल मचा हुआ है वही दूसरी और एक शादी में बाराती गौमांस खाने की जिद पर अड़ जाते है. भला ऐसे में लड़की वाले करे भी तो क्या करे? गौमांस नही परोसोगे तो लड़के वाले शादी तोड़ देंगे और अगर परोसोगे तो पुलिस वाले जेल में अन्दर डाल देंगे. ऐसी स्थिति में लड़की वालो के लिए दोनों ही तरफ मुसीबत ही मुसीबत है.

दरअसल उत्तर प्रदेश के रामपुर में एक ऐसा ही मामला सामने आया है. यहाँ एक शादी के दौरान लड़के वाले लड़की वालो से गौमांस परोसने की बात करते है. लेकिन जब लड़की वाले इस बात से इनकार कर देते है तो लड़के वाले बारात को बिना दुल्हन ही वापिस ले जाते है. इस दौरान गाँव में पंचायत भी बैठती है लेकिन इससे भी कोई फायदा नही होता और लड़के वाले शादी तोड़ देते है.

और पढ़े -   गाय पर आस्था रखने वाले लोग हिंसा नहीं करते: मोहन भागवत

यह पूरा मामला रामपुर के पटवाई थाना क्षेत्र का है. यहाँ के गाँव घोसीपुरा की रहने वाले शकीला ने अपनी बेटी नसीम की शादी दरियागद के रहने वाले मोहम्मद रफ़ी के साथ तय की थी. करीब तीन महीने पहले दोनों की मंगनी भी कर दी गयी. शकीला के अनुसार मंगनी के कुछ दिन बाद ही रफ़ी के घरवाले कार और दावत में गौमांस परोसने की मांग करने लगे. लेकिन आर्थिक हालात ठीक नही होने की वजह से हमने कार की मांग को ठुकरा दिया.

और पढ़े -   गुजरात दंगो पर झूठ बोलने को लेकर राजदीप सरदेसाई ने अर्नब गोस्वामी को बताया फेंकू

शकीला ने आगे बताया की हमने गौमांस की मांग को भी यह कहकर ठुकरा दिया की इस पर सरकार ने प्रतिबंध लगाया हुआ है. अब शादी के दिन रफ़ी के घरवालो ने फिर से गौमांस परोसने की मांग की जिस पर हमने अपनी असहमति जताई. इससे नाराज होकर रवि के घरवाले बिना शादी किये ही वहां से लौट गए. हालाँकि गाँव में पंचायत भी हुए लेकिन फिर भी वो नही माने. इसके बाद शकीला ने पुलिस ने छह लोगो के खिलाफ थाने में तहरीर दे दी.  पुलिस ने बताया की मामला दर्ज कर जांच की जा रही है.

और पढ़े -   बुलेट ट्रेन को लेकर आशुतोष राणा का तंज कहा, उधार की 'चुपड़ी' रोटी से अच्छी श्रम से अर्जित की गयी 'सुखी' रोटी

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE