‘बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ’ योजना के बारे में जानकारी देते हुए महिला एवं बाल विकास मंत्री मेनका गांधी ने लोकसभा को जानकारी देते हुए कहा कि पुरे देश में पश्चिम बंगाल एकमात्र ऐसा राज्य है जिसने ‘बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ’ योजना को अंगीकार नहीं किया है.

उन्होंने आगे कहा कि पश्चिम बंगाल ऐसा ने करने से आज कोलकाता के लिंगानुपात में गिरावट आई है और इसका प्रदर्शन सबसे खराब हैं. मेनका ने कहा कि यह योजना राजनीतिक नहीं है, इससे बालिकाओं को ही फायदा होना है. इसलिए मैं पश्चिम बंगाल से आग्रह करूंगी कि इसे स्वीकार करके आगे बढ़ाएं.

और पढ़े -   रिपब्लिक न्यूज़ के फेसबुक और एप का लोगो ने किया बुरा हाल, रेटिंग गिरकर पहुंची 1.9 पर

हालांकि तृणमूल कांग्रेस के एक सांसद ने पूरक प्रश्न पूछते हुए कहा कि पश्चिम बंगाल में मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के नेतृत्व वाली सरकार ने सुकन्या योजना शुरू की और इसकी सभी ओर प्रशंसा की गई. संयुक्त राष्ट्र ने इस योजना को सबसे बेहतर योजना के रूप में पुरस्कृत किया.

जिसके जवाब में मेनका गांधी ने कहा कि सुकन्या योजना अच्छी योजना है लेकिन कई राज्यों ने ऐसी योजना शुरू की है और इन सभी का प्रदर्शन अच्छा रहा है। मध्य प्रदेश ने लाडली लक्ष्मी योजना, झारखंड ने लाडली योजना, गोवा ने ममता योजना, महाराष्ट्र ने माझी कन्या योजना के अलावा आंध्र प्रदेश, गुजरात, राजस्थान में भी ऐसी ही योजना चल रही है और इनका प्रदर्शन काफी अच्छा है.

और पढ़े -   मालेगांव ब्लास्ट मामलें के मुख्य आरोपी कर्नल पुरोहित को सुप्रीम कोर्ट ने दी जमानत

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE