राजधानी दिल्ली में साल 2008 में हुए बाटला हाउस मुठभेड़ मामले में एक स्थानीय अदालत ने फ्लैट के केयरटेकर को आतंकवादियों को फ्लैट में किराये पर रखने के आरोप से मुक्त कर दिया है.

दरअसल, फ्लैट के केयरटेकर अब्दुल रहमान पर फर्जी दस्तावेज के आधार पर इंडियन मुजाहिदीन के संदिग्ध आतंकी आतिफ अमीन को किराए पर फ्लैट दिया था. लेकिन मंगलवार को हुई सुनवाई में अतिरिक्त सत्र न्यायाधीश राजकुमार त्रिपाठी ने उन्हें आरोपमुक्त कर दिया.

और पढ़े -   भारत के 27 हाजियो की सऊदी अरब में हुई मौत - हज कमेटी आफ इंडिया

दरअसल, रहमान के खिलाफ दिल्ली पुलिस ने साकेट कोर्ट में चार्जशीट दायर की थी, लेकिन पुलिस रहमान के खिलाफ लगाए गए आरोप कोर्ट के सामने साबित नहीं कर पाई.

बचाव पक्ष के वकील एम.एस. खान ने कहा कि पुलिस ओरिजनल लीज डीड पेश करने में नाकाम रही. यह इस मामले में एक महत्वपूर्ण साक्ष्य था. इसके बाद रहमान को आरोप मुक्‍त कर दिया गया.

और पढ़े -   रिपब्लिक न्यूज़ के फेसबुक और एप का लोगो ने किया बुरा हाल, रेटिंग गिरकर पहुंची 1.9 पर

19 सितंबर, 2008 को जामिया नगर स्थित बटला हाउस में इंडियन मुजाहिदीन के खिलाफ हुई इस मुठभेड़ में दो संदिग्‍ध मारे गए थे जबकि दो अन्‍य गिरफ्तार किया गया था.


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE