mop

बजरंग दल द्वारा आत्मरक्षा के नाम पर बिना सरकारी अनुमति के आयोजित करने पर बजरंग दल कार्यकर्ता महेश मिश्रा 14 दिनों की न्यायिक हिरासत में हैं. इस कैंप का विडियो मीडिया में आने के बाद यूपी सरकार ने आयोजकों के खिलाफ केस दर्ज किया हैं.

पुलिस द्वारा केस दर्ज करने पर विश्व हिंदू परिषद् के महासचिव सुरेंद्र जैन ने गुरुवार को बयान जारी कर कहा है, “प्रशिक्षण शिविर आयोजित करने में ग़लत क्या है? इसमें नया कुछ भी नहीं है.” ऐसे शिविर देश में पिछले 25 सालों से आयोजति होते रहे हैं.

op

उन्होंने आगे कहा कि “प्रशिक्षण शिविर में किसी तरह के हथियार का प्रशिक्षण नहीं दिया जा रहा था. हम बस ये सिखा रहे थे कि आतंकवाद से कैसे निपटा जाए.” उत्तर प्रदेश की सरकार अपनी कमियों को छिपाने के लिए बेवजह विवाद खड़ा करने की कोशिश कर रही है.

गोरतलब रहे कि कैंप के एक कथित वीडियो में,कैंप में जिन लोगों के ख़िलाफ़ हथियारबंद कार्रवाई का प्रशिक्षण दिया जा रहा था, उन्हें मुस्लिम युवाओं जैसा दिखाने के लिए नक़ली दाढ़ी और टोपी पहनाई गई थी. इस पर सुरेंद्र जैन का कहना है कि इस शिविर में हमलावरों या ‘आतंकियों के वही चेहरे और वस्त्र दिखाए गए हैं जो मीडिया में दिखाए जाते हैं.’


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें