पिछले दिनों मथुरा जा रही ट्रेन में भीड़ द्वारा बीफ की अफवाह के बीच मारे गए बल्लभगढ़ के 17 वर्षीय जुनैद की मौत से पूरा देश सकते में है। हरियाणा के मुख्यमंत्री और केन्द्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने इस मुद्दे पर सख्त कार्रवाई की बात कही है हालाकिं मृतक जुनैद के परिवार वाले इससे बहुत ज्यादा आशान्वित नहीं लग रहे हैं।

हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर द्वारा पीड़ित परिवार को 10 लाख की मदद को भी मृतक के पिता जलालुद्दीन ने गलत बताया है उनके अनुसार उन्हें सिर्फ 5 की लाख ही मदद की गई है। हर महीने दो महीने में जगह जगह ऐसी मौते हो रही हैं। सरकार कुछ करती नहीं है मुसलमानों के लिए, मुसलमान देखकर चुप रह जाती है। सोचती नहीं, कुछ करती नहीं। मुसलमान के कारण मारे गए हमारे लड़के, हिंदू जातिवाद के कारण मारे गए। ट्रेन में 100-150 लोग तो होंगे ही कोई ऐसा आदमी नहीं मिला जो बोला हो इन बच्चों को मात मारों। इससे पहले इस हत्या के खिलाफ गांव खंडावली में लोगों ने काली पट्टी बांधकर ईद मनाई।

और पढ़े -   यूके मूल की लड़की के अपहरण और हत्या के आरोप में बीजेपी नेता गिरफ्तार

ईद के त्यौहार से तीन दिन पहले उग्र भीड़ ने जुनैद की हत्या पूरे गांव और आसापास के इलाकों में गम का महौल है। इसी कारण जुनैद के परिवार के लोग, दोस्त व अन्य ग्रामीण ईद की नमाज अदा करने के दौरान हाथों में काली पट्टी बांधे हुए नजर आए।

जुनैद के परिवार ने कहा कि हम ईद के दिन नमाज अदा तो कर रहे हैं लेकिन हम यह त्यौहार नहीं मनाएंगे। हम चाहते हैं कि जिन्होंने भी मेरे बेटे की हत्या की है उन्हें कड़ी से कड़ी सजा दी जाए। पुलिस ने इस मामले में एक आरोपी की गिरफ्तारी कर ली है बाकी लोगों को भी तलाशा जा रहा है।

और पढ़े -   दुर्गा प्रतिमा विसर्जन पर रोक लगाने के ममता सरकार के आदेश पर हाई कोर्ट सख्त, पुछा सत्ता है तो मनमाना आदेश पारित करेंगे

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE