arvind-kejriwal_650x400_61468737736

Talk to AK में अरविन्द केजरीवाल ने सवालों का जवाब दिया जिसमे उन्होंने बहुत सी बातों को साफ़ कर दिया की दिल्ली की जनता के लिए उन्होंने कितना अधिक काम किया है तथा उन बिन्दुओं पर भी बात की जिस कारण उन्हें विधायकों की तनखाह बढ़ाने को लेकर निशाने पर लिया गया था.

  1. अगर केंद्र सरकार दिल्ली में भारत-पाकिस्तान जैसी स्थिति पैदा नहीं करती तो हम चार गुना बेहतर काम कर सकते थे।
  2. विज्ञापनों में जो दिखाया है वो हमने वाकई में दिल्ली में किया है, वह काल्पनिक नहीं है। चाहें तो खुद आकर देख सकते हैं।
  3. विधायक की पगार 12 हज़ार थी, हमने 50 हज़ार कर दी, क्या यह ज्यादा है? अगर हम ऐसा नहीं करते तो वह भ्रष्टाचार की तरफ धकेले जाते।
  4. गुजरात में उत्पीड़न का माहौल है, अगर वहां के लोग लड़ने के लिए तैयार हैं तो हम भी तैयार हैं।
  5. 14 बिल पेंडिंग हैं, 11 अफसरों के तबादले हो गए हैं – हम पीड़ित नहीं है, दिल्ली पीड़ित है। इस बदले की कार्यवाही की कीमत लोगों को चुकानी पड़ रही है।
  6. हमें झूठे आरोपों में फंसाया जा रहा है। मैंने अपने विधायकों को कह दिया है, यह आज़ादी की दूसरी जंग है।
  7. राजेंद्र कुमार जी WiFi देख रहे थे। अब मुझे नए मंत्री को नियुक्त करना होगा। अगर एलजी ने कुछ निरस्त नहीं किया तो दिसंबर तक पूर्वी दिल्ली में हॉटस्पॉट्स शुरू हो जाएंगे।
  8. बीजेपी को मेरी ईमानदारी से डर लगता है। बीजेपी के सत्ता में आने के बाद एक ही मुख्यमंत्री के दफ्तर पर छापा पड़ा है और वो हूं मैं।
  9. मैं यह दावा कर सकता हूं कि आज दिल्ली में हमारी जगह कोई और सरकार होती तो राजेंद्र जी को कोई नहीं पकड़ता।
  10. उम्मीद है चुनाव आयोग, संसदीय सचिव को लेकर सही फैसला लेगा।

लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें