bhin

ऑपरेशन ब्लू स्टार की 32वीं बरसी पर अमृतसर के स्वर्ण मंदिर में देशविरोधी नारों से गूंज गया साथ ही पंजाब को आतंकवाद की आग में झोंकने वालें जरनैल सिंह भिंडरावले के समर्थन में पोस्टर भी लहराए गयें. लेकिन किसी भी पार्टी ने इन देशविरोधी नारों के खिलाफ आवाज तक नहीं उठाई हैं.

इस मुद्दे पर बीजेपी भी पूरी तरह खामोश हैं जो पंजाब में अकालियों के साथ सरकार चला रही. बीजेपी के किसी नेता ने इन बयानों की ना तो निंदा की हैं ना ही कोई कारवाई की बात. बीजेपी की देशभक्ति भी समय और क्षेत्र के साथ निर्धारित होती हैं.

और पढ़े -   हिंसा और तनाव के बीच दलित और ठाकुरों ने पेश की मिसाल, मिलकर करायी दो दलित लडकियों की शादी

पंजाब में होने वालें चुनावों की वजह से बीजेपी ने चुप्पी साध रखी हैं. बीजेपी जेएनयू में लगे देश विरोधी नारों पर पूरे देश की सियासत हिला देती हैं लेकिन लेकिन स्वर्ण मंदिर में लगे खालिस्तान जिंदाबाद के नारों पर खामोशी अख्तियार कर लेना बीजेपी के राष्ट्रवाद के बारें में सब कुछ बयान करता हैं.


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE