कोलकाता | पश्चिम बंगाल के 24 नार्थ परगना में संप्रदायिक तनाव कम होने का नाम नही ले रहा है. यही नही अब यह तनाव आस पास के इलाको में भी फैलना शुरू हो गया है. हालाँकि केंद्र सरकार ने हालात पर काबू पाने के लिए बीएसएफ के करीब 400 जवानों को वहां भेजा है. लेकिन इतना सब बंदोबस्त होने के बावजूद बुधवार को भी वहां छिटपुट घटना देखने को मिली. बरहाल वहां हिंसा में थोड़ी कमी जरुर आई है.

इसी बीच वहां का एक विडियो भी सामने आया है. इस विडियो में कुछ लोग आर्यों को देश से बाहर निकालने के नारे लगाते हुए दिख रहे है. बताया जा रहा है की यह विडियो मंगलवार को फेसबुक पर अपलोड किया गया. अंग्रेजी न्यूज़ चैनल टाइम्स नाउ के अनुसार यह विडियो किसी  मोहम्मद अरिजुल अली नाम के व्यक्ति ने फेसबुक पर अपलोड किया है. अली ने टाइम्स नाउ से बात करते हुए विडियो अपलोड करने की बात कबुली है.

और पढ़े -   गौरक्षा के नाम पर हो रही हिंसा के शिकार लोगो मुआवजा दे राज्य सरकारे- सुप्रीम कोर्ट

विडियो में देखा जा सकता है की कुछ लोग मोहम्मद पैगम्बर का अपमान करने वालो के खिलाफ कार्यवाही करने की मांग कर रहे है. इसके अलावा वो हिन्दू विरोधी नारे भी लगा रहे है. एक जगह वो आर्यों को देश से बाहर करने की भी बात कर रहे है. उधर इस विडियो के विडियो में आने के बाद सुरक्षाबलो ने और सतर्कता बरतते हुए वहां निषेध आज्ञा लागू कर दी. जिसके बाद हिंसा में थोड़ी कमी दिखायी दी है.

और पढ़े -   रोहिंग्या शरणार्थियों की आने की संभावना के चलते भारत ने म्यांमार के साथ की अपनी सीमा सील

वही बीजेपी ने पुरे मामले में ममता सरकार की आलोचना करते हुए कहा की उन पर एंटी हिन्दू प्रोपेगेंडा को शाह देने का आरोप लगाया. इसके अलावा बीजेपी नेता कैलाश विजयवर्गीय ने केन्द्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह को खत लिखकर आरोप लगाया की करीब 2 हजार मुसलमानों ने बशीरहाट और बादुड़िया इलाके में हिन्दुओ पर हमला किया. वहां बम विस्फोट किये गए और कई महिलाओ और बेटियों के साथ बलात्कार किया गया. उन्होंने इस मामले में जल्द से जल्द दखल देने की मांग की.


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE