tarishi

बांग्लादेश की राजधानी ढाका में हुए हमले में एक भारतीय छात्रा की भी मौत हुई हैं. इस हमले के दोरान 20 विदेशी नागरिकों की भी मौत हुई हैं.

भारतीय विदेशमंत्री सुषमा स्वराज ने ट्विटर पर जानकारी देते हुए लिखा कि ‘मुझे यह बताते हुए बहुत दुख हो रहा है कि ढाका हमले में तरिषी की मौत हो गई है. तरिषी उन लोगों में शामिल थी जिन्हें आतंकियों ने बंधक बना लिया था.

स्वराज ने आगे लिखा ‘मैंने उनके पिता संजीव जैन से बात की है और सहानुभूति प्रकट की ह. दुख की इस घड़ी में पूरा देश उनके साथ है और उके परिवार के वीज़ा का इंतज़ाम किया जा रहा है और विदेश मंत्रालय के अधिकारी काम पर लगे हुए हैं.

तारिशी जैन के पिता संजीव पिछले 15-20 साल से कपड़ों का व्यवसाय कर रहे हैं और वह पत्नी के साथ ढाका के बारीधारा में रहते हैं. 19 साल की तरिषी जैन कैलिफोर्निया यूनिवर्सिटी की छात्रा थी और वह छुट्टियों के दौरान अपने माता-पिता के पास आई थी.


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें