अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी (एएमयू) द्वारा पिछले काफी समय से की जा रही माइनोरिटी स्टेटस की मांग की जा रही हैं. इसके लिए काफी प्रदर्शन भी हुवे हैं। पूर्व जस्टिस मार्कण्डेय काटजू ने एएमयू के माइनॉरिटी स्टेटस पर सवाल उठाया हैं।

उन्होंने ट्वीटर पर सवाल उठाते हुवे पूछा कि  क्या माइनोरिटी स्टेटस से मुसलमानो की गरीबी और बेरोज़गारी दूर होगी। उन्होंने इस मांग को मुर्खता बताया हैं

उन्होंने कहा कि इससे देश में सांप्रदायिक माहौल बनेगा । उन्होंने कहा कि संवेदनशील लोगों को और मुसलमानो को इसका विरोध करना चाहिए ।

और पढ़े -   गौरक्षा के नाम पर हो रही हत्या पर सुप्रीम कोर्ट की मोदी सरकार को फटकार

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE