rih1

रिहाई मंच लखीमपुर ने नजीब को वापस लाने और रोहित वेमुला के इंसाफ के लिये किला ग्रांउड मोहम्मदी में जनसभा कर तहसील तक मार्च निकालकर 7 सूत्री ज्ञापन राष्ट्रपति के नाम सौंपा। जनसभा को सम्बोधित करते हुये रिहाई मंच के राष्ट्रीय अध्यक्ष एड0 शुऐब ने कहा कि जनता का ध्यान उसके मूलभूत मुद्दों से हटाने की राजनीति की जा रही है। मोदी सरकार अपने चहेते अडानी, अम्बानी, जिंदल को कितना लाभ पहुचा चुकी है लेकिन नजीब की मां के सवालों को हल करने का समय उनके पास नहीं है। काला धन के नाम पर नोटो की बंदी करने वाले मोदी को बताना चाहिए की उन्होने खुद अपने कपड़ों पर 70 करोड़ रू खर्च किये वह कहाँ से आये।

रिहाई मंच के महासचिव राजीव यादव ने कहा नजीब को किसने गायब कर दिया, रोहित वेमुला को इंसाफ क्यों नहीं मिला, ये सवाल तब तक उठते रहेंगे जब तक जवाब नहीं मिल जाता। क्योंकि ये सवाल सिर्फ दो इंसानों या परिवारों के सवाल नहीं है ये पूरे मुल्क और जम्हूरियत के सवाल हैं। अगर इनके जवाब सरकार नहीं दे पाती तो फिर उसे यह कहने का कोई हक नहीं है कि भारत एक लोकतांंित्रक देश है। उन्होंने कहा कि आज जब किसी नजीब की माँ को दिल्ली पुलिस इंसाफ मांगने पर घसीटती है या रोहित वेमुला की माँ को दरदर भटकना पड़ रहा है तो ऐसे में इन माँ, बहनो की लड़ाई में हम बेटो को मज़बूती से खड़ा होना पड़ेगा।rihai-manch-6रिहाई मंच प्रवक्ता मो0 आसिफ (शीबू) ने कि जो दिल्ली पुलिस जेएनयू के छात्रों के पाकिस्तानी आतंकियों से सम्बंध होने की फर्जी खबरें चलवाती है वही दिल्ली पुलिस नजीब का पता लगाने में इतनी आलस क्यों दिखा रही है। क्या पुलिस का व्यवहार ऐसा सिर्फ इसलिए है कि नजीब मुसलमान है।

rihai-manch-03

रिहाई मंच जिला अध्यक्ष मोनिस अंसारी ने कहा कि रिहाई मंच की इंसाफ की इस जंग को प्रतिकात्मक विरोध न माना जाए। नजीब का सवाल मोहम्मदी का भी सवाल है क्योंकि हमारे जैसे छोटे भाई यहां से उच्च शिक्षा के लिए जेएनयू और हैदराबाद विश्वविद्यालय में पढ़ने जा सकेें इसके लिए जरूरी है कि रोहित वेमुला के हत्यारों और नजीब को गायब करने वालों को सजा दी जाए। आज इस एतिहासिक किला ग्राउंड में इकठ्ठा होकर हमने ये संकेत दे दिया है कि जुल्म को जनता अब और बर्दाश्त नहीं करने जा रही है।

इस कार्यक्रम में रिहाई मंच महासाचिव राजीव यादव मुख्य अतिथि थे और अध्यक्षता मंच के राष्ट्रीय अध्यक्ष एड0 शुएब ने की। इस मौके पर विशिष्ट अतिथि के रूप में बरबर नगर पंचायत चेयरमैन संजय शर्मा, वामपंथी नेता क्रांती कुमार सिंह, इरशाद कुरैशी, गौहर व मोनिस अंसारी जिला अध्यक्ष रिहाई मंच मोहम्मदी लख्ीमपुर खीरी, प्रवक्ता मो0 आसिफ ( शीबू), सचिव सिद्दीक यार खान, कुशाग्र गुप्ता नगर अध्यक्ष, विधान सभा अध्यक्ष शहनवाज़ खान उर्फ शानू, खालिद हुसैन एड0, शारिक सिद्दीकी एड0, अज़ीज़ सिद्दीकी एड0, सभासद नासिर व तमाम गणमान्य नागरिक मौजूद रहे। सभा का संचालन आरिफ सिद्दीकी ने किया।


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें