इंडिया 24×7 को दिए इंटरव्यू में अमर सिंह ने कई सनसनीखेज दावे किए।अमर सिंह ने कहा, ”मैंने सुना है कि नरेंद्र मोदी उनका नाम देश के राष्‍ट्रपति के लिए सोच रहे हैं।”

एक्‍टर अमिताभ बच्‍चन के कभी बेहद नजदीकी रहे राजनेता अमर सिंह ने उन पर एक बार फिर जोरदार निशाना साधा है। न्‍यूज चैनल इंडिया 24×7 को दिए इंटरव्यू में अमर सिंह ने कई सनसनीखेज दावे किए। अमर‍ सिंह ने बोफोर्स घोटाले के तार अमिताभ से जोड़ दिए। अमर सिंह ने कहा, ”मैंने सुना है कि नरेंद्र मोदी उनका नाम देश के राष्‍ट्रपति के लिए सोच रहे हैं। देश के भावी राष्‍ट्रपति के लिए, जो एक संभावित उम्‍मीदवार है, उसको क्‍लीनचिट रहना चाहिए।”

और पढ़े -   बजरंग दल ने गरबे के दौरान गौमूत्र से किया गया लोगो का शुद्धिकरण

अमर ने दावा किया कि बोफोर्स केस में अमिताभ को बचाने के लिए उन्‍होंने तत्‍कालीन पीएम चंद्रशेखर की मदद ली थी। अमर सिंह ने कहा, ”विश्‍वनाथ प्रताप सिंह के पलायन का और चंद्रशेखर के आगमन के वे (अमिताभ बच्‍चन) सबसे बड़े लाभार्थी हैं। बाद की सरकारें इसके लिए उन्‍हें तंग न करें, इसके लिए चंद्रशेखर जी ने फेरा बोर्ड के उन्‍नी नाम के व्‍यक्‍त‍ि से इनके (अमिताभ) पक्ष में निर्णय कराया जो ज्‍यूडिशियल बॉडी थी…क्‍योंकि चंद्रशेखर जी के फैसले को कहा जा सकता था कि यह पूर्णत: पॉलिटिकल डिसीजन है। फिर से मामला खुल सकता था।” अमर ने यह भी आरोप लगाया कि उन्‍होंने अमिताभ के लिए तत्‍कालीन वित्‍त मंत्री जसवंत सिंह से मदद ली थी। अमर ने कहा, ”अमिताभ बच्‍चन से अंधे मोह के कारण मैंने जसवंत सिंह जी की सेवा ली थी, जब वो वित्‍त मंत्री थे। और एक महिला अधिकारी, जिसका नाम मुझे याद नहीं है, वो मुंबई में थी। वो बहुत ईमानदार थी। उसके दफ्तर में भी हम गए। उससे भी रूष्‍ट होकर बातें की। देश के इतने बड़े कलाकार को आप तंग कर रही हैं।” अमर ने यह भी दावा किया कि अमिताभ के लिए पैसों का लेनदेन एक बड़े व्‍यवसायिक घराने ने किया था। अमर सिंह के मुताबिक, अमिताभ के 50 करोड़ रुपए के बकाए का भुगतान सहारा ने किया। (Jansatta)

और पढ़े -   गौरक्षा के नाम पर हो रही हिंसा के शिकार लोगो मुआवजा दे राज्य सरकारे- सुप्रीम कोर्ट

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE