नई दिल्ली | कश्मीर में अमरनाथ यात्रियों पर हुए आतंकी हमले से जहाँ पूरा देश रोष में है वही अभी भी कुछ लोग इस हमले को संप्रदायिक रंग देने की कोशिश कर रहे है. इनमे से एक है सुदर्शन न्यूज़ के मालिक और एडिटर इन चीफ सुरेश चव्हाण. इनका मानना है की अगर कश्मीर को गौरक्षको के हवाले कर दिया जाए सारी समस्या ही खत्म हो जाएगी.

सुरेश चव्हाण की इस सोच पर आम आदमी पार्टी की विधायक अलका लाम्बा ने करार जवाब दिया. उन्होंने सुरेश को ट्वीट कर जवाब दिया की एक बार कश्मीर को एक बारे इस गौरक्षक को देकर ही देख लो. हालाँकि पुरे मामले में अलका लाम्बा को ट्रोल भी किया गया. लेकिन फिर भी वो अपनी बात पर डटी रही.

और पढ़े -   एक छात्रा के साथ छेडछाड के बाद बीएचयु छात्राओं ने किया प्रदर्शन कहा, लड़के देखकर करते है हस्तमैथून, नही मिली कोई भी सुरक्षा

दरअसल यह सब उद्धव ठाकरे के उस बयान के बाद शुरू हुआ जिसमे उन्होंने कहा था की आजकल गौरक्षको की खूब बात हो रही है इसलिए क्यों न गौरक्षको को कश्मीर में आतंकियों से लड़ने के लिए भेद दिया जाए. इसके अलावा उद्धव ने यह भी कहा की अगर अमरनाथ यात्रियों पर हमला करने वाले आतंकियों के थैले में हथियार की जगह गौमांस होता तो अब तक एक भी आतंकवादी जिन्दा न होता.

और पढ़े -   गौरक्षा के नाम पर हो रही हिंसा के शिकार लोगो मुआवजा दे राज्य सरकारे- सुप्रीम कोर्ट

उद्धव के इस ब्यान पर प्रतिक्रिया देते हुए सुरेश चव्हाण ने ट्वीट किया,’ उद्धव जी, सच में कश्मीर गौरक्षकों के हाथ में दे कर देखें. सारे देशद्रोही बाहर और कश्मीरी पंडित वापस अपने घरों में होंगे.’ सुरेश के इस ट्वीट का जवाब देते हुए अलका लाम्बा ने ट्वीट किया,’ मोदी जी से नहीं उद्धव जी आप से उम्मीद कर रहा है , मान जाओ इसकी और एक बार इस गौ-रक्षक के हाथों में दे कर तो देखो.’


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE