भारत में फ़िलिस्तीनी राजदूत अदनान अबू अलहैजा ने बैतूल मुकद्दस पर इजरायल की कार्रवाई को लेकर कहा कि अल-अक्सा की हिफाजत के लिए फिलिस्तीनी मुसलमान अपना संघर्ष जारी रखेंगे.

नई दिल्ली में प्रेस कांफ्रेंस के दौरान उन्होंने कहा कि फिलिस्तीनी जनता पूरी शक्ति व क्षमता के साथ मुसलमानों के पहले क़िब्ले की स्वतंत्रता तक जायोनी शासन के खिलाफ संघर्ष जारी रखेगी.

इस दौरान उन्होंने मस्जिदुल अक्सा को फिलिस्तीनी नमाज़ियों के लिए बंद करने और नई-नई पाबंदी आयद करने को लकर इजरायल की कड़ी आलोचना की.

उन्होंने कहा कि मस्जिदुल अक्सा का संबंध विश्व के समस्त मुसलमानों से है और फिलिस्तीनी जायोनी शासन के अपराधों के मुकाबले में चुप नहीं बैठेंगे.

अलहैजा ने याद दिलाया कि पिछले वर्ष ही यूनिस्को ने एक प्रस्ताव में मस्जिदुल अक़्सा को मुसलमानों के लिए एक पवित्र स्थल बताया है. साथ ही यूरोपीय संघ सहित बहुत से अंतरराष्ट्रीय संगठन भी मस्जिदुल अक्सा में निर्माण कार्य के खिलाफ है.


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

अभी पढ़ी जा रही ख़बरें

SHARE