Sadhvi Prachi. Picture from her facebook account.

विश्व हिंदू परिषद की नेता साध्वी प्राची के ‘मुस्लिम मुक्त’ भारत के हाल के कथित बयान पर गहरी आपत्ति व्यक्त करते हुए ऑल इंडिया इमाम कौंसिल ने जंतर मंतर पर विरोध प्रदर्शन कर विहिप नेता के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज किये जाने की मांग की।

कौंसिल के महासचिव मुफ्ती हनीर अहरार कासमी ने कहा, ‘‘ यह बयान न केवल असंवैधानिक और आक्रामक प्रकृति का है बल्कि यह हमारे देश के धर्मनिरपेक्ष तानेबाने को नुकसान पहुंचाने वाला तथा साम्प्रदायिक ध्रुवीकरण और दो अलग अलग समुदायों के बीच वैमनस्य बढ़ाने के इरादे से है। ’’ इमाम कौंसिल के सदस्यों ने विरोध प्रदर्शन किया और बाद में इस बारे में राष्ट्रीय अल्पसंख्यक आयोग को एक ज्ञापन सौंपा ।

और पढ़े -   इशरत जहां एनकाउंटर मामले में सुप्रीम कोर्ट ने दो आईपीएस आधिकारी को नौकरी से हटाया

ज्ञापन में कहा गया है कि, ‘‘ हम साध्वी के खिलाफ उपयुक्त दंडात्मक धाराओं के तहत तत्काल एफआईआर दर्ज कराने और देश में उनकी सार्वजनिक सभाओं पर रोक लगाने की मांग करते हैं क्योंकि वह लगातार समाज को साम्प्रदायिक आधार पर उद्वेलित करती रही हैं। ’’

प्रदर्शनकारियों ने बजरंग दल के नेताओं के खिलाफ भी कार्रवाई किये जाने की मांग की जिन्होंने हाल ही में हथियार प्रशिक्षण कैम्प आयोजित किया था। ज्ञापन में कहा गया है कि हम मांग करते हैं कि बजरंग दल के सभी हथियार जब्त कर लिये जाएं और हथियारों के लाइसेंस रद्द कर दिये जाएं । (भाषा)

और पढ़े -   उर्दू पूरे हिंदुस्तान की जुबान, राजनीति ने सिर्फ मुसलमानों की बना दिया: हामिद अंसारी

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE