iim

केंद्र की मोदी सरकार ने आज जम्मू में भारतीय प्रबंध संस्थान (आईआईएम) की स्थापना को मंजूरी दे दी है. इसके पहले ही जम्मू में भारतीय प्रद्यौगिकी संस्थान (आईआईटी) की भी स्थापना केंद्र सरकार द्वारा की ओर से की जा चुकी है.

पीएम मोदी की अध्यक्षता में दिल्ली में हुई बैठक के दौरान सरकार की कैबिनेट ने इस फैसले को मंजूरी देते हुए कहा कि जम्मू में एक अस्थायी परिसर में आईआईएम की स्थापना और संचालन के लिए मंजूरी दे दी. यह अस्थायी कैंपस ओल्ड गवर्नमेंट कॉलेज ऑफ इंजीनियरिंग एंड टेक्नोलॉजी का होगा और संचालन अकादमिक सत्र 2016-17 से होगा.

और पढ़े -   केन्द्रीय मंत्री गिरिराज सिंह का इफ्तार पार्टी को लेकर विवादित बयान कहा, नौटंकी करने की क्या जरुरत

जम्मू में आईआईएम की स्थापना का फैसला प्रधानमंत्री के स्पेशल डेवलपमेंट प्रोजेक्ट के तहत किया गया है. अस्थायी परिसर में 2016 से 2020 तक इस परियोजना के संचालन की लागत 61.90 करोड़ रूपए होगी. इस साल पोस्ट ग्रेजुएट डिप्लोमा प्रोग्राम इन मैनेजमेंट में 54 लोगों को प्रवेश दिया जाएगा और चौथे वर्ष में कुल छात्र संख्या 120 तक पहुंच जाएगी.

बयान में कहा गया, ‘‘यह जम्मू-कश्मीर के लिए प्रधानमंत्री के विकास पैकेज का हिस्सा है. यह संस्थान खोले जाने, जम्मू में आईआईटी खोले जाने, एनआईटी श्रीनगर के आधुनिकीकरण, जम्मू और कश्मीर में एक-एक एम्स खोले जाने से राज्य में उच्च स्तर के जीवन और शिक्षा की जरूरत को पूरा करने में दीर्घकालिक मदद मिलेगी.’’

और पढ़े -   हरियाणा के एक मंदिर में 786 लिखा झंडा लगाने पर बढ़ा तनाव, गाँव में पहुंची पुलिस फाॅर्स

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE