‘अतुल्य भारत’ अभियान के बाद बॉलीवुड स्‍टार आमिर खान को मेगा रोड सेफ्टी कैंपेन से भी हटा दिया गया है. बताया जा रहा है कि उनके ‘असहिष्णुता’ वाले बयान पर हुए विवाद के बाद मेगा रोड सेफ्टी कैम्पेन से भी हाथ धोना पड़ा है.

द टेलीग्राफ के मुताबिक, केंद्रीय सड़क एवं परिवहन मंत्री नितिन गडकरी के कहने पर आमिर खान को रोड सेफ्टी कैंपेन का ब्रांड एम्‍बेसडर बनाया गया था. इस कैंपेन के लिए दिसंबर 2014 में आमिर खान को साइन किया गया था.

और पढ़े -   हिन्दू महासभा ने मोदी सरकार को लिया आड़े हाथो कहा, हम सरकार बनाना जानते है तो गिराना भी

आमिर खान एक टीवी शो ‘सत्‍यमेव जयते’ पर सड़क दुर्घटनाओं पर एक एपिसोड दिखाया गया था. इसके बाद खुद केन्‍द्रीय मंत्री गडकरी ने आमिर से बात की थी और उनसे मुलाकात भी की थी.

टेलीग्राफ को गडकरी के ऑफिस से मिली जानकारी के अनुसार, गडकरी को लगा था कि सड़क दुर्घटना के उस एपिसोड में काफी अच्‍छी रिसर्च की गई थी. इतना ही नहीं वह आमिर के द्वारा सामाजिक मुद्दों को उठाने से काफी खुश थे. इसलिए जब वह देशभर में सड़क दुर्घटनाओं को रोकने और लोगों में जगरूकता फैलाने के अभियान चलाने का फैसला लिया गया तो उसके लिए आमिर पहली पसंद थे.

और पढ़े -   संयुक्त राष्ट्र में बोला भारत - ओसामा को शरण देने वाला पाक बन चुका ‘टेररिस्तान’

जब गडकरी ने आमिर से मुलाकात की थी तो इस कैंपेन को बिना पैसों के करने के लिए आमिर खान राजी भी हो गए थे. इस अभियान का कंटेंट लिखने के लिए मंत्रालय ने पीयूष पांडे से बात की थी लेकिन जब तक ये अभियान पटरी पर आ पाता उससे पहले ही आमिर के ‘असहिष्‍णुता’ वाले बयान के बाद उन्‍हें इस कैंपेन से अलग करने का फैसला लिया गया.

और पढ़े -   यूपी: गौरक्षक दल की नवरात्रों में मस्जिद के लाउडस्पीकर और मीट की दुकाने बंद कराने की मांग

गौरतलब है कि पिछले नवम्बर को आमिर ने एक कार्यक्रम के दौरान बताया था कि देश में ‘असहिष्‍णुता’ होने के चलते कैसे उनकी पत्नी किरण राव यह देश छोड़कर जाने की बात कही थी. साभार: न्यूज़ 18


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE