दादरी | करीब डेढ़ साल पहले दादरी के बिसाहडा गाँव में गौमांस रखने के आरोप में अख़लाक़ की उग्र भीड़ ने पीट पीट कर हत्या कर दी. उस समय यह मामला बेहद सुर्खियों में रहा था. कुछ राजनीतिक दलों ने इस मामले को हिन्दू मुस्लिम रंग देना का भी प्रयास किया था. उस समय अख़लाक़ की हत्या के आरोप में 19 लोगो के खिलाफ नामजद रिपोर्ट दर्ज कराई गयी थी.

इनमे से 11 आरोपी लुक्सर जेल में बंद है जबकि दो आरोपियों अरुण और पुनीत को अभी हाल ही में जमानत मिली है. इसके अलावा एक आरोपी की पीछले साल मृत्यु हो चुकी है. हालाँकि अभी अदालत ने इस केस का फैसला नही सुनाया है लेकिन जमानत पर रिहा हुए दोनों आरोपी अब खुद की जान देना चाहते है. गुरुवार को इन लोगो के परिजनों ने एसएसपी से मिलकर अपनी मांग उनके सामने रखी.

और पढ़े -   आरबीआई के सर्वे में खुलासा - नौकरी नहीं मिलने से मोदी सरकार से उठ रहा लोगों का विश्वास

इन लोगो ने एसएसपी से इच्छा मृत्यु की मांग की है. इनका कहना है की अगर गौहत्या के आरोपी जान मोहम्मद को गिरफ्तार नही किया गया तो उन्हें इच्छा मृत्यु की इजाजत दी जाए. बताते चले की जान मोहम्मद, मृतक अख़लाक़ का भाई है. जब अख़लाक़ की ह्त्या की गयी तो पुलिस ने उसके फ्रीज में रखे मांस के टुकड़े को जांच के लिए भेजा था.

और पढ़े -   रोहित वेमुला नहीं थे दलित, आत्महत्या की वजह कॉलेज प्रशासन नहीं: जांच रिपोर्ट

जांच में पता चला की फ्रीज में रखा गया मांस का टुकड़ा गौमांस नही था बल्कि बकरे का मांस था. इसके बाद इसी टुकड़े की एक और जांच की गयी जिसकी रिपोर्ट में खुलासा हुआ की वो गौमांस था. इसके बाद अख़लाक़ के भाई और उसके परिवार के अन्य लोगो के खिलाफ गौहत्या का मुकदमा दर्ज किया गया था. अब जेल से बाहर आये आरोपी उसी मामले में जान मोहम्मद की गिरफ्तारी की मांग कर रहे है.

और पढ़े -   मुस्लिमों को अपनी देशभक्ति साबित करने की जरूरत नहीं: डॉ जफरुल इस्लाम

मालूम हो की 28 सितम्बर 2015 को दादरी के बिसाहडा गाँव में मंदिर की रेडियो से एलान किया गया की अख़लाक़ के घर पर गौमांस रखा हुआ. इस एलान के कुछ ही देर बाद अख़लाक़ के घर के बाहर सैकड़ो लोगो की उत्तेजित भीड़ इकट्ठी हो गयी और उन्होंने अखलाक को पीट पीट कर मार डाला. इसके अलावा उसके घर पर भी काफी तोड़फोड़ की गयी.


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE