भारत के केंद्रीय मंत्रियों में जो ट्विटर पर काफ़ी सक्रिय हैं, उनमें विदेश मंत्री सुषमा स्वराज भी हैं. शनिवार को भारत के निशानेबाज़ अभिनव बिंद्रा भी जर्मनी के कोलोन शहर में उस समय मुश्किल में फँस गए, जब उनके कोच का पासपोर्ट चोरी हो गया. बिंद्रा को ब्राज़ील जाना था, जहाँ रियो में उन्हें प्री ओलंपिक में हिस्सा लेना था.

अभिनव बिंद्रा ने विदेश मंत्री सुषमा स्वराज को ट्विटर पर संपर्क किया और पूरी जानकारी दी. सुषमा स्वराज तुरंत सक्रिय हुईं और न सिर्फ़ उनके मंत्रालय ने उनसे संपर्क किया, बल्कि जर्मनी स्थित भारतीय राजदूत गुरजीत सिंह भी बिंद्रा मदद के लिए आगे आए.

बाद में अभिनव बिंद्रा ने सुषमा स्वराज और राजदूत गुरजीत सिंह का आभार जताया.

ट्विटर पर चल रही बातचीत में सुषमा स्वराज ने जवाब में लिखा- अभिनव हम आपकी हरसंभव मदद की कोशिश करेंगे, लेकिन आपको एक वादा करना होगा कि आप भारत के लिए ओलंपिक में स्वर्ण पदक जीतेंगे. इसके जवाब में अभिनव बिंद्रा ने लिखा- आपकी शुभकामनाओं के साथ मैं अपनी ओर से हरसंभव कोशिश करूँगा और अपनी ओर से कोई कमी नहीं छोड़ूँगा.

33 वर्षीय अभिनव बिंद्रा ने 2008 के बीजिंग ओलंपिक में 10 मीटर एयर राइफ़ल में स्वर्ण पदक जीता था.

लेकिन चार साल बाद लंदन ओलंपिक में उनका प्रदर्शन निराशाजनक रहा था. रियो ओलंपिक के लिए क्वालिफ़ाई कर चुके अभिनव बिंद्रा ने उम्मीद जताई है कि इस बार वे बेहतर प्रदर्शन करेंगे. (BBC)


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment

Related Posts

loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें
SHARE