cxhx6uywgaax44i

मुंबई | प्रधानमंत्री मोदी के 500 और 1000 के नोट बंद करने के फैसले के बाद , विपक्ष के अलावा खुद सत्ता पक्ष के नेताओ में खलबली मची हुई है. पहले गुजरात के एक बीजेपी नेता ने मोदी के इस फैसले का विरोध किया फिर राजस्थान के बीजेपी विधायक ने नोटबंदी पर सवाल उठाए. यह सब जाहिर करता है की खुद बीजेपी के अन्दर , इस फैसले से खलबली मची हुई है.

महाराष्ट्र से आई एक और खबर ने मोदी सरकार और बीजेपी के माथे पर शिकन पैदा कर दी है. यहाँ के एक बीजेपी नेता की गाडी से करीब 91.5 लाख रूपए की नकदी बरामद हुई है. महाराष्ट्र सरकार में सहकारिता मंत्री सुभाष देशमुख की एक गाडी को आज रूटीन चेकअप के लिए जब रोका गया तो उसमे से भारी मात्रा में कॅश बरामद हुआ.

ओस्मानाबाद के डीएम् ने इस खबर की पुष्टि करते हुए कहा की हमें लोकमंगल की एक गाडी से 91.5 लाख रूपए कैश बरामद हुआ है. सुभाष देशमुख लोकमंगल के नाम से कई कम्पनीज चलाते है. नोट बरामदगी के दौरान गाडी के ड्राईवर ने बताया की यह कैश लोकमंगल बैंक का है. वही इस पर सफाई देते हुए सुभाष देशमुख ने कहा की यह कैश लोकमंगल चीनी मिल के कर्मचारियों की सैलरी के लिए लाया जा रहा था.

फ़िलहाल पुलिस ने कैश जब्त कर लिया है और इस मामले की जांच की जा रही है. उधर इस मामले पर विपक्ष ने महाराष्ट्र सरकार को घेरते हुए सुभाष देशमुख का इस्तीफा माँगा है. एनसीपी नेता नवाब मालिक ने कहा की यह घटना साबित करती है की बीजेपी नेताओ के घर में काफी ब्लैक मनी छिपा हुआ है. इनकम टैक्स विभाग को सभी बीजेपी नेताओ के यहाँ छापे मारने चाहिए.


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

Facebook Comment

Related Posts

loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें