Narendra Modi, India's prime minister, speaks during the 37th Singapore Lecture held at the Shangri-La Hotel in Singapore, on Monday, Nov. 23, 2015. Modi's government, which in February pushed back its deadline for fiscal consolidation by a year to March 2018, faces a higher wage bill just as a sluggish economy and dwindling asset sales are weighing on revenue. Photographer: Nicky Loh/Bloomberg via Getty Images
Narendra Modi, India’s prime minister

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को अपने ‘टाउनहॉल’ कार्यक्रम में जनता से सीधा संवाद करते हुए कहा कि कुछ लोग पूरी रात असमाजिक कार्यों में लिप्त रहते हैं और दिन में गौरक्षक का चोला पहन लेते हैं. मैं राज्य सरकार से कहता हूं कि वे ऐसे लोगों का डोज़ियर बनाएं.

उन्होंने आगे कहा कि बादशाह और राजाओं की लड़ाई होती थी तो बादशाह क्या करते थे, वह अपनी सेना के सामने गायों को रखते थे. राजा को परेशानी होती थी कि अगर लड़ाई में हम शस्‍त्रों का वार करेंगे तो गाय मर जाएगी और पाप लगे. इसी उलझन में वो हार जाते थे.

और पढ़े -   चीनी के सरकारी मीडिया ने सुषमा स्वराज को बताया 'झूठा' कहा, भारत को दिखने लगी अपनी हैसियत

मैंने देखा है कि कुछ लोग जो पूरी रात असामाजिक हरकत करते हैं. लेकिन दिन में गौरक्षक का चोला पहन लेते हैं. मैं राज्य सरकारों को अनुरोध करता हूं क‍ि ऐसे जो स्वयंसेवी निकले हैं. अपने आप को जो बड़ा गौरक्षक मानते हैं. उनका जरा डोजियर तैयार करो 70 से 80 फीसदी ऐसे निकले जो ऐसे गोरखधंधे करते है, जिन्हें समाज स्वीकार नहीं करता है. लेकिन अपनी उन बुराइयों से बचने के लिए यह गौरक्षा का चोला पहनकर निकलते हैं.

और पढ़े -   चीन की भारत को चेतावनी कहा, किसी भ्रम में न रहे भारत, पहाड़ हिल सकता है हमारी सेना नही

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि सबसे बड़ी गौसेवा यह होगी कि इन्हें प्लास्टिक से बचाया जा जाए. लोगों को प्लास्टिक फेंकने से रोका जाना चाहिए और गायों को प्लास्टिक खाने से बचा लें तो यह बड़ी सेवा होगी. उन्होंने कहा कि गाय वध से कम और प्लास्टिक खाने से ज्यादा मरतीं हैं. उन्होंने कहा कि समाज सेवा लोगों को प्रताड़ित करने के लिए नहीं होती, बल्कि इसके लिए काफी तपस्या, करुणा, त्याग, संयम और बलिदान की जरुरत होती है.

और पढ़े -   बदले अठावले के सुर: पहले कहा था - गौमांस खाना सबका अधिकार, अब बोले - नहीं खाना चाहिए

गौरतलब है कि उत्तर प्रदेश, गुजरात और मध्य प्रदेश सहित कई राज्यों में गाय रक्षकों की ओर से दलितों और मुस्लिमों के खिलाफ हिंसा की घटनाओं को लेकर मोदी सरकार और भाजपा की जबरदस्त आलोचना हो रही है.


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE