not-governments-fault-if-one-stones-a-dog-vk-singh-on-dalit-childrens-killings

साउथ सूडान में फंसे अपने 600 नागिरकों को निकालने के लिए भारत सरकार ने दो C-17 विमान जुबा भेंजे हैं. जिसके माध्‍यम से वहां फंसे 600 से अधिक भारतीयों को निकालकर देश लाने की कोशिश की जाएगी. इस ऑपरेशन को संकटमोचन नाम दिया गया है.  इसे विदेश राज्यमंत्री जनरल वीके सिंह लीड कर रहे हैं.

इस मामले में विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने जानकारी देते हुए ट्वीट किया है कि वह जल्द ही दक्षिण सूडान से भारतीयों को निकालने के लिए ‘संकटमोचन’ नाम से एक ऑपरेशन शुरू करने जा रही हैं.

साउथ सूडान के जूबा शहर के कई हिस्सों में पूर्व विद्रोही और सैनिकों के बीच भारी संघर्ष जारी है. आधिकारिक सूत्रों के मुताबिक अब तक 300 लोगों ने भारत आने के लिए रजिस्ट्रेशन किया है. सूडान रवाना होने के पहले वीके सिंह ने ट्वीट कर कहा कि- “हम साउथ सूडान में फंसे हर भारतीय को देश लाने की पूरी कोशिश करेंगे.

एक आधिकारिक बयान में कहा गया है कि राहत उडान के गुरुवार सुबह जूबा पहुंचने की उम्मीद है. इसमें कहा गया है कि वैध भारतीय यात्रा दस्तावेज वाले भारतीय नागरिकों को ही विमान में सवार होने दिया जाएगा और वे अपने साथ अधिकतम पांच किलोग्राम ‘केबिन लगेज’ ला सकते हैं. इसमें कहा गया कि महिलाओं एवं बच्चों को प्राथमिकता से जगह दी जाएगी. सिंह के अलावा सचिव (आर्थिक संबंध) अमर सिन्हा भी जूबा गए हैं.


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें