suda

सुडान में भारत का ऑपरेशन संकटमोचन कामयाब रहा है. पहला विमान आज तड़के पांच बजे तिरुअनंतपुरम पहुंच गया. C 17 ग्लोबमास्टर मिलिट्री ट्रांसपोर्ट प्लेन से लौटने के बाद केन्द्रीय मंत्री वीके सिंह ने बताया कि पहली खेप में 156 लोग सूडान से लौटकर आए हैं. वायुसेना के दो सी-17 विमान से भारतीयों को निकाला गया है. दोनों विमान तिरुअनंतपुरम से सुबह 10 बजे दिल्ली पहुंचेंगे.

दक्षिण सूडान से भारतीयों को निकालने के अभियान में तब बाधा उत्पन्न हुई जब वहां से निकलने के लिए विदेश मंत्रालय के साथ पंजीकरण कराने वाले कई भारतीयों ने वापस लौटने से इनकार कर दिया. विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने ट्वीट करके उनसे बाहर निकलने की अपील की थी. उन्होंने लिखा, ‘यदि स्थिति बिगड़ी तो हम आपको नहीं निकाल पाएंगे.

गौरतलब रहें कि दक्षिण सूडान में पिछले हफ्ते से विद्रोहियों और सेना के बीच भीषण लड़ाई हो रही है. हिंसा की वजह से 36 हजार लोगों ने संयुक्त राष्ट्र मिशन में शरण ले रखी है. दक्षिणी सूडान में तकरीबन 600 भारतीय नागरिक हैं, जिनमें से 450 नागरिक राजधानी जुबा में ही हैं. हालांकि 600 भारतीय नागरिकों में से सिर्फ 300 लोगों ने स्वदेश वापसी की इच्छा जाहिर की है.


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

Facebook Comment

Related Posts

loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें