gujarat-dalit-protest

उना में दलित युवकों पर हुए अत्याचार के विरोध में पूरे राज्य के दलितों में आक्रोश बढ़ता ही जा रहा है. अब ये विरोध धर्मपरिवर्तन तक आ पहुंचा हैं. बनासकांठा जिले के 15 हजार दलितो ने धर्म परिवर्तन करने की धमकी दी है.

जिले में समुदाय के कम से कम 1000 लोगों ने बौद्ध धर्म अपनाने की इच्छा जताते हुए धर्मांतरण के लिए अपनी सहमति दी है. उनका कहना है कि यदि उनसे बराबरी का व्यवहार नहीं किया जाए तो हिंदू धर्म में रहने का कोई मतलब नहीं है.राज्य में दलित अत्याचार के विरोध में बनासकांठा में धरना, रैली आदि का आयोजन किया जा रहा है.

और पढ़े -   रेलवे यात्रियों को अपनी सुरक्षा के लिए देने होंगे अतिरिक्त पैसे, मोदी सरकार जनरल टिकटों पर लगा रही सुरक्षा सेस

स्थानीय दलित नेता एवं बीडीएस सचिव दिनेश मकवाना ने कहा, उना घटना को लेकर पूरे राज्य के दलित काफी दुखी हैं. यह दिखाता है कि उनसे अभी भी भेदभाव और जाति, धर्म और पेशे के नाम पर विभिन्न अत्याचार होते हैं. इसलिए बनासकांठा से कई दलितों ने बौद्ध धर्म अपनाने की इच्छा जतायी है.


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE