girls

1 मई को देशभर के मेडिकल कॉलेज में एडमिशन को लेकर NEET का एंट्रेंस एग्जाम आयोजित किया गया सीबीएसई द्वारा कराए जाने वाले इस एग्जाम के लिए देशभर में काफी सेंटर बनाये गये थे,

गौरतलब है की सुप्रीम कोर्ट के नकल रोकने हेतु दिशानिर्देश को इस बार काफी सख्ती से लागू किया गया लेकिन अधिक सख्ती होने के कारण स्टूडेंट्स को बहुत परेशानी से गुज़ारना पड़ा. कड़ी सुरक्षा के दौरान शर्ट पहनकर पहुंचे अभ्यर्थियों को परीक्षा देने से पहले शर्ट उतरवा दी गई। इससे उन्हें बनियान में ही परीक्षा देनी पड़ी।

लगभग साढ़े छह लाख अभियार्थियों ने ये परीक्षा दी एक एक स्टूडेंट की 4-5 लोग चेकिंग कर रहे थे मात्र पांच मिनट लेट होने पर भी स्टूडेंट को एग्जाम हॉल में नही जाने दिया गया.

जानिये किस तरह से हुई चेकिंग 

1. लड़कियों के कान की बाली तक उतरवा ली गई और चुनरी भी बाहर रखवा दी गईं।

2. कुछ लड़कियों पर शंका होने पर उनके पूरे कपड़े उतरवाए गए और अंडर गारमेंट तक की चेकिंग की गई। इस प्रकार की चैकिंग के दौरान कई छात्रायें बुरी तरह रोने लगीं।

3. फुल आस्तीन वाली शर्ट पहनकर आए लडकों की शर्ट उतरवा दी गयी इसके अलावा छात्रों की शर्ट को कैंची से काटकर शर्ट की आस्तीन आधी की गयी इसके अलावा छात्रों ने परिचितों की हाफ आस्तीन वाली शर्ट पहनकर एंट्री की।

4. परीक्षा में छात्रों को पेसिंल, पेन, पर्स, घड़ी, कैलकुलेटर सहित अन्य किसी भी तरह के इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस अंदर नहीं ले जाने दिए।

5. पानी की बोतल या किसी प्रकार का खाने का सामान नहीं ले जाने दिया गया।

6. एक छात्र को छह टीचर घेरकर तलाशी ले रहे थे। साथ ही कई लड़कियों के बालों में लगे हेयर पिन तक चेक किए गए। जब पूरी तरह तसल्ली हुई, तभी छात्रों को अंदर जाने दिया।

7. सभी केंद्रों में वीडियोग्राफी भी कराई गई। परीक्षा पर नजर बनाए रखने के लिए उडऩदस्ता दल का भी गठन किया गया था।

8. परीक्षा में धर्म के अनुसार, कपड़े पहनने की छूट दी गई, लेकिन ऐसे छात्रों को सुबह 8.30 पर सेंटर में पहुंचने के लिए कहा गया।

गौरतलब है कि परीक्षा का रिजल्ट पांच जून को घोषित किया जाएगा। परीक्षार्थी विभाग की aipmt.nic.in की वेबसाइट पर परीक्षा की जानकारी ले सकते हैं।


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें