मथुरा,आटो चालक से उगाही का विरोध कर रहे सपा नेता को सिपाहियों ने गिरागिराकर पीटा। इसके बाद जब सपा नेता को मेडिकल के लिए जिला अस्पताल लाया गया तो यहां आक्रोशित सपाइयों और पुलिस के बीच जमकर धक्कामुक्की हुई। देर रात एसएसपी ने सिपाहियों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज करने के आदेश दे दिए थे। सपा नेता ने सिपाहियों पर रुपये लूटने का भी आरोप लगाया है।

police-5696c70b9861d_exlstसुखदेव नगर निवासी मुन्ना मलिक समाजवादी पार्टी लोहिया वाहिनी के महानगर अध्यक्ष हैं। मुन्ना मंगलवार को रात में 10 आटो से सौंख रोड जा रहे थे। आरोप है कि गोवर्धन चौराहे के निकट कृष्णानगर चौकी के सिपाही जितेन्द्र यादव और संदीप यादव व एक अन्य आए और आटो चालक से उगाही करने लगे।

इस पर मुन्ना मलिक ने हस्तक्षेप किया और कहा कि इससे सरकार की साख खराब होगी। मलिक के विरोध पर सिपाही बौखला गए और उन्हें पीटना शुरू कर दिया। सिपाहियों की करतूत की शिकायत सपा नेताओं ने एसपी क्राइम राम मोहन से की। एसपी क्राइम ने मामले की जांच सीओ रिफाइनरी से कराने को कहा और मुन्ना मलिक को मेडिकल परीक्षण के लिए जिला अस्पताल भेजा।

मुन्ना मलिक को लेकर कोतवाली पुलिस जिला अस्पताल गई तो दोपहर बाद तीन बजे कुछ सपा नेता भी आ गए। उगाही के विरोध पर अपनी पार्टी के नेता की पिटाई सपाइयों को नागवार गुजरी। उन्होंने अस्पताल में ही नारेबाजी शुरू कर दी। इस पर पुलिसकर्मियों और सपा नेताओं में टकराव हो गया। कृष्णानगर चौकी प्रभारी अखिलेश तिवारी से सपाइयों की तीखी झड़प हुई। कई और दरोगा, सिपाही भी मौके पर आ गए।

उधर सपाइयों की भी भीड़ बढ़ गई। इसके बाद उगाही करने वाले सिपाही को लेकर पुलिस और सपाइयों में जमकर धक्कामुक्की हुई। मौके पर सीओ रिफाइनरी सुरेन्द्र यादव आ गए। इसके बाद बमुश्किल मामला शांत हुआ। देर शाम एसएसपी ने दोनों सिपाही जितेन्द्र यादव और संजीव यादव के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज करने के आदेश दिए। मुन्ना मलिक की तहरीर में दोनों सिपाही और एक अन्य व्यक्ति के खिलाफ 700 रुपये लूटने का भी आरोप है।

देर शाम सपा के जिलाध्यक्ष सहित दर्जनों सपा कार्यकर्ताओं ने मामले से अवगत कराया था। इसकी जांच एसपी क्राइम को सौंपी है। दो दिन में वे रिपोर्ट देंगे।
– डा. राकेश सिंह
एसएसपी

साभार अमर  उजाला


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें