जब से नोटबंदी हुई है तब से देश में अगर कुछ प्रसिद्ध हुआ है तो वह है पेटीएम. जहाँ अभी तक पेटीएम को ऑनलाइन रिचार्ज करने वाले ही जानते थे वहीँ नोटबंदी के बाद फ्री में मिली पब्लिसिटी में इसे शहर से लेकर गाँव का बच्चा बच्चा जान गया है लेकिन जिस तरह पेटीएम कंपनी वादें करती है क्या उनपर खरा भी उतरती है.. ?

हालिया कुछ घटनाये ऐसी हुई है जिन्हें देखकर तो यह नही कहा जा सकता, कोहराम न्यूज़ के एक पाठक ने हमें कुछ डिटेल भेजी है जिनके आधार पर ऐसा प्रतीत होता है की पेटीएम की सर्विस से ऑनलाइन भुगतान करने में लोगो को ना सिर्फ काफी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है बल्कि पेमेंट बीच में ही कही रुक रहा है, सबसे आश्चर्य की बात यह की भुगतान करने वाले यूजर के अकाउंट से तो पेमेंट कट रहा है लेकिन भुगतान करने वाली वेबसाइट तक नही पहुँच रहा.

यहाँ हम आपके सामने दो उदहारण पेश कर रहे है दोनों की इंसिडेंट एक ही व्यक्ति के साथ घटित हुए है. जहाँ ना सिर्फ उक्त व्यक्ति के अकाउंट से पेमेंट कटा वहीँ उसके पास कोई ऐसा आप्शन नही है जिसके द्वारा अपना पेमेंट वापस माँगा सके.

अब यह ऑनलाइन धोखाधड़ी है टेक्निकल गड़बड़ी, इसे खबर को पढ़कर आप खुद निश्चित करें 

हमारे जिस पाठक ने देहरादून से यह हमे भेजा है उनके अनुसार एक बार irctc से टिकट बुक करने में पेटीएम का इस्तेमाल किया जहाँ अकाउंट से पैसे काट लिए गये लेकिन irctc की वेबसाइट तक ट्रान्सफर नही किये गये. यूजर ने पेमेंट करने के लिए पेटीएम वॉलेट का इस्तेमाल किया था, टिकट तत्काल में बुक किया गया था जहाँ उन्हें अर्जेंट ट्रेवल करना था लेकिन टिकट बुक नही हो पाया. irctc की वेबसाइट पर जाकर देखा तो टिकट में “payment Requested” (मतलब टिकट को होल्ड पर रखना जब तक पेमेंट क्लियर ना हो जाए”)

फोटो – 1 – इसमें देखा जा सकता है की 17 दिसम्बर के लिए देहरादून से मुरादाबाद की ट्रेन “काठगोदाम एक्सप्रेस” के लिए तत्काल बुकिंग की गयी.जिसमे पेमेंट करने के लिए पेटीएम वॉलेट का इस्तेमाल किया गया. यूजर के बैंक अकाउंट से 1155 रुपए काट लिए गये लेकिन वो पैसे irctc की वेबसाइट तक नही पहुँच पाए, जिस कारण irctc ने बुकिंग स्टेटस को होल्ड पार डाल दिया.
पेटीएम वॉलेट से पेमेंट किया गया लेकिन irctc तक नही पहुंचा और टिकट को होल्ड पर रखा गया, जबकि टिकट तत्काल बुक किया गया था, ज़ाहिर सी बात है तत्काल टिकट बुक करने वाले को कही इमरजेंसी में ही जाना होता है
इस फोटो में देखा जा सकता है की irctc ने रिजर्वेशन स्टेटस कैसल कर दिया क्योंकी उसे पेमेंट नही पहुंचा लेकिन वो पेमेंट ना तो आजतक पेटीएम वॉलेट में ऐड हुआ ना ही बैंक अकाउंट में वापस आया

उपर दिए गये फोटो में आसानी से देखा जा सकता है की पेटीएम वॉलेट से जो टिकट बुक किया गया था उसके लिए बैंक अकाउंट से बैलेंस काट लिया गया लेकिन टिकट बुक नही हुआ, क्यों की irctc तक पेटीएम वॉलेट ने बैलेंस नही पहुचाया.सबसे अधिक आश्चर्य की बात यह रही की इस बैलेंस के कोई हिसाब-किताब पेटीएम वॉलेट में नही है, मतलब पैसा कहा रुका हुआ है वो आपको नही पता, ना ही आपके पेटीएम  अकाउंट में  कोई डिटेल मौजूद  है.
अब आते है दूसरी कहानी पर जो उसी यूजर के साथ घटित हुई है

यह घटना 9 जनवरी की है जब वेबसाइट के लिए डोमेन मुहैया कराने वाली वेबसाइट godaddy से एक डोमेन खरीदने के लिए पेटीएम वॉलेट का इस्तेमाल किया गया. यहाँ भी बिलकुल वही कहानी दोहराई गयी. पेटीएम ने बैंक से पैसा काट लिया लेकिन गो-डैडी तक नही पहुचाया, और उसके बाद यूजर के मोबाइल पर एक sms आया जिसमे कहा गया की आपके अकाउंट से पैसा काट लिया गया है अगर आप चाहे तो यह आपको रिफंड हो जायेगा और उस sms में पेटीएम केयर का एक लिंक दिया गया लेकिन लिंक पर क्लिक करने वहां ऐसा कोई भी आप्शन नही था जिससे अकाउंट से कटे पैसे के लिए रिक्वेस्ट की जा सके, क्यों की बैंक अकाउंट से जो पैसा काटा गया था उसका रिकॉर्ड पेटीएम वॉलेट में नही जोड़ा गया जिस कारण अब यूजर अपने पैसे के लिए कंप्लेंट भी नही कर सकता (ज्ञात हो पेटीएम  में उसी पैसे से सम्बंधित शिकायत की जा सकती है जो उनके अकाउंट में दर्शाया गया है, अगर पैसा काटने के बाद अकाउंट में नही दर्शाया जाता है तो आप उसकी शिकायत भी नही कर सकते).

 

पैसे कटते ही एक ईमेल मिला जिसमे पेमेंट आईडी और रिफंड करने की बात कही गयी थी लेकिन पेटीएम वेबसाइट पर ऐसा को आप्शन नही मिला.
वही बैंक से तो पैसा काट लिया गया लेकिन गो-डैडी तक नही पहुचाया गया जिस कारण यूजर डोमेन लेने से वंचित रह गया

और सबसे अमेजिंग बात यह की पेटीएम की पूरी वेबसाइट खंगालने पर कोई ऐसा नंबर नही मिला जिसपर कांटेक्ट करके आप अपनी समस्या बता सके, हाँ एक नॉन-टोल फ्री नंबर 9643-979797 मिला जिसपर मराठी भाषा में पेटीएम के विज्ञापन चलाये जा रहे है और यह नंबर फ्री नही है जिसमे 10 मिनट तक कोई फ़ोन रिसीव नही करता.

ऐसे में अगर आप पेटीएम वॉलेट से ऑनलाइन भगतान करते है तो सावधान हो जाये कहीं आपको भुगतना ना पड़ जाये.


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें
SHARE