isis caught
प्रतीकात्मक फोटो

आतंकवादियों का माइंड-वाश किस तरह किया जाता है इसका उदाहरण तब देखने को मिला जब ईराक के कुर्द फ़ोर्स द्वारा पकड़ा गया आतंकवादी बार-बार ये गुहार लगा रहा था की उसे मार दें, उसे 4 बजे तक जन्नत पहुंचना है.

अल-आलम की खबर के अनुसार अनुसार कुर्द पीशमर्गा बलों ने शुक्रवार को मूसिल नगर के बाहरी क्षेत्र में एक आतंकवादी को गिरफ़्तार कर लिया। पकड़ा गया खूंखार आतंकवादी सुरक्षा बलों से बार बार यही कह रहा था की ‘मुझे मार डालो, मुझे सुबह 4 बजे तक जन्नत पहुंचना है’.

इससे भी ताज्जुब वाली बात यह की जब आतंकी से पूछा गया की तुम करना क्यों चाहते हो तो वो बोला की जन्नत में उसके साथी पहुंच चुके हैं और मेअराज के अवसर पर जन्नत में होने वाले समारोह में वे भी भाग लेना चाहता है।

अल-आलम की खबर के अनुसार सुरक्षा बल के कमांडर अल-सिरजी ने बताया की सामर्रा शहर का ये आतंकवादी वास्तव में आत्मघाती हमलावर है तथा अपने 50 हमलावर साथियों के साथ पुरे ईराक में फ़ैल कर सुसाइड ब्लास्ट करना इनका मकसद था.

आतंकी ने कहा की सभी साथियों ने 4 बजे जन्नत के गेट पर मिलने का वादा किया था जहाँ वो सभी लोग मेराज के अवसर पर समारोह में भाग ले सके.

ये खबर पढने के बाद आपको अंदाज़ा आ गया होगा की किस कदर इन आतंकियों का माइंडवाश कर दिया जाता है, इन्हें इतनी समझ भी नही रहती की बच्चों, औरतों, बुजुर्गो और बेकसूरों को मारने वाले जन्नती नही हत्यारे कहलाते है.


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें